इंदौर में होगा टीसीएस का सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट केम्पस

इंदौर, अगस्‍त 2013/ इंदौर के सुपर कॉरिडोर में टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेस द्वारा 500 करोड़ की लागत से दो चरण में सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट केम्पस स्थापित किया जाएगा। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने केम्पस के निर्माण का शिलान्यास करते हुए कहा कि देश ही नहीं बल्कि विश्व की जानी-मानी टीसीएस द्वारा इंदौर के सुपर कॉरिडोर पर 100 एकड़ भूमि पर विकसित किये जाने वाले डेवलपमेंट सेंटर की नींव का पत्थर, वस्तुत: प्रदेश में आईटी निवेश और रोजगार की आधार-शिला है। मुख्यमंत्री ने हवाई यात्रा को और अधिक कारगर एवं सुविधाजनक बनाये जाने के साथ-साथ हवाई ईंधन शुल्क घटा कर पाँच प्रतिशत किये जाने की घोषणा की।

श्री चौहान ने कहा कि इंदौर में टीसीएस के प्रवेश से आर्थिक विकास के नये रास्ते खुलेंगे। उन्होंने आईटी और बीपीओ सेवाओं पर केन्द्रित परिसर इंदौर में स्थापित करने के लिये टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेस का स्वागत किया। कहा कि मध्यप्रदेश सकल घरेलू उत्पाद के लिहाज से भारत में सबसे तेजी से बढ़ते राज्यों में से है, जो राज्य के लोगों के लिये सर्वश्रेष्ठ बुनियादी सेवाओं, नौकरी एवं व्यापार के अवसर प्रदान करने के हमारे इरादे को मजबूत करता है।

सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि यह शुरूआत सूचना क्रांति, पूँजी निवेश, रोजगार और विकास की भी शुरूआत है।

टीसीएस के मुख्य कार्यपालन अधिकारी और प्रबंध निदेशक एन. चन्द्रशेखरन ने कहा कि इंदौर में ज्ञान आधारित उद्योगों के लिये बड़ा हब बनने की क्षमता है। टीसीएस का निवेश स्थानीय प्रतिभाओं और कुल कारोबार का विकास कर राज्य की अर्थ-व्यवस्था को बढ़ावा देगा। मध्यप्रदेश सरकार की मदद के बिना इस परियोजना को प्रारंभ करने में हम सक्षम नहीं हो पाते।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here