ईज ऑफ डूईंग बिजनेस में मध्यप्रदेश होगा अग्रणी राज्य

भोपाल, जुलाई  2015/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि ईज ऑफ डूईंग बिजनेस में मध्यप्रदेश अग्रणी राज्य होगा। रक्षा उत्पादन नीति और आई.टी.सी. सेमी कंडक्टर फेब नीति बनाने वाला मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य है। मुख्यमंत्री श्री चौहान यहाँ द इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड एकाउन्टेंट्स ऑफ इंडिया की दो दिवसीय नेशनल कान्फ्रेंस का शुभारंभ कर रहे थे। कार्यक्रम में राजस्व मंत्री रामपाल सिंह विशेष रूप से उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वित्तीय नीतियों के निर्धारण में चार्टर्ड एकाउन्टेंट्स की महत्वपूर्ण भूमिका है। वे प्रदेश और देश के विकास में सकारात्मक योगदान करें। कर-प्रणाली सरल होना चाहिए। इसमें चार्टर्ड एकाउन्टेंट्स सहयोग कर सकते हैं। चार्टर्ड एकाउन्टेंट्स अपने अनुभव और शिक्षा का लाभ समाज को दें। उन्होंने कहा कि देश के विकास में मध्यप्रदेश की भूमिका महत्वपूर्ण है। पिछले सात वर्ष से मध्यप्रदेश की विकास दर दहाई अंक में है। मध्यप्रदेश की कृषि विकास दर देश में सर्वाधिक है। अब प्रदेश में कृषि के साथ व्यापार-उद्योग को प्रोत्साहित किया जा रहा है। मध्यप्रदेश निवेशकों के लिये पसंदीदा राज्य है। व्यापार-उद्योग के विकास में जीएसटी का महत्वपूर्ण योगदान होगा।

कार्यक्रम में द इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड एकाउन्टेंट्स ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष मनोज फड़नीस ने कहा कि उनकी संस्था जीएसटी संबंधी प्रशिक्षण में राज्य सरकार की मदद करेगी। श्री अनुज गोयल और दीपक जैन ने भी संबोधित किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here