उत्पादों के विपणन हेतु जुडने का सुनहरा अवसर

भोपाल, अगस्त 2015/ म.प्र. खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड द्वारा संचालित प्रोजेक्ट विंध्यावैली के माध्यम से स्व-सहायता समूहों तथा ग्रामोद्योग इकाईयों के एफ.एम.सी.जी. उत्पादों का बाजार में प्रभावी रूप से विपणन किया जाता है ताकि उन्हें नियमित रोजगार उपलब्ध हो सके । प्रोजेक्ट से जुडने पर उत्पादकों का माल व्यापारिक दृष्टिकोण से आर्कषक पैकेजिंग,गुणवत्ता,मानकीकरण और उचित दाम के आधार पर तैयार कर बाजार में विक्रय हेतु उपलब्ध कराया जाता है ।

इस आशय की जानकारी में प्रबंधक म.प्र. खादी एवं ग्रामोद्योग बोर्ड ने बताया कि जिले में ऐसे स्व-सहायता समूह/पंजीकृत ग्रामोद्योग इकाईयां जो एफ.एम.सी.जी. वस्तुएं जैसे- आटा, बेसन, हल्दी, मिर्ची, धनिया, गरम मसाले, पापड, अचार, अगरबत्ती एवं पीने का पानी आदि का उत्पादन करती है, वे विध्यावैली प्रोजेक्ट से जुडकर अपने उत्पाद विक्रय कर और लाभ कमा सकती है।

इच्छुक उत्पादक स्व-सहायता समूह/पंजीकृत इकाईयां इस संबंध में विस्तृत जानकारी विभागीय वेबसाइट से प्राप्त कर सकते हैं अथवा जिले में पदस्थ उप संचालक/प्रबंधक (खादी ग्रामोद्योग) जिला पंचायत कार्यालय से अथवा मुख्यालय स्तर पर महाप्रबंधक विंध्यावैली,म.प्र. खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड 74 अरेरा हिल्स,केन्द्रीय विद्यालय के पास भोपाल से सीधे अथवा दूरभाष/मो. नम्बर 0755-2552721, 7869601413, 7869601420 या ई-मेल [email protected] के माध्यम से सम्पर्क कर सकते हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here