उपार्जित धान की कस्टम मिलिंग के निर्देश

 भोपाल, सितम्बर  2014/ प्रदेश में खरीफ विपणन वर्ष 2013-14 में समर्थन मूल्य पर उपार्जित धान की कस्टम मिलिंग के संबंध में खाद्य, नागरिक आपूर्ति विभाग ने नये निर्देश जारी किये हैं। यह निर्देश धान की समय पर मिलिंग सुनिश्चित किये जाने के उद्देश्य से जारी किये गये हैं।

दिये गये निर्देश के अनुसार उपार्जित धान की कस्टम मिलिंग अरवा चावल के साथ उसना चावल के रूप में की जाकर परिदान की जा सकेगी। कस्टम मिलिंग किये गये उसना चावल का परिदान अनिवार्य रूप से भारतीय खाद्य निगम को किया जायेगा। मिलर्स द्वारा मिलिंग किये गये उसना चावल पर राज्य सरकार द्वारा भारत सरकार से निर्धारित मिलिंग दर के अतिरिक्त 10 रुपये प्रति क्विंटल प्रोत्साहन राशि प्रदान की जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here