एक पखवाड़े में आलीराजपुर जिले को दूसरी सौगात

भोपाल, अगस्त,2015/ आलीराजपुर जिले को सिंचाई सुविधाओं से सम्पन्न बनाने की दिशा में एक पखवाड़े में दूसरी पहल हुई है। नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण इस क्षेत्र की शहीद चन्द्रशेखर आजाद, जोबट परियोजना का विस्तार करते हुए जिले में 10 हजार हेक्टेयर सिंचाई क्षमता निर्मित करेगा।

मुख्यमंत्री 27 अगस्त को अलीराजपुर जिले के ग्राम वास्केल में इस विस्तार योजना का भूमि-पूजन करेंगे। इसी माह गत 13 अगस्त को जिले में 35 हजार हेक्टेयर सिंचाई क्षमता की नर्मदा लिंक अलीराजपुर उदवहन परियोजना का भूमि-पूजन मुख्यमंत्री द्वारा किया गया था। एक पखवाड़े में ही इस आदिवासी बहुल जिले को सिंचाई की दूसरी योजना की सौगात मिली है।

विस्तार योजना में पूर्व निर्मित शहीद चन्द्रशेखर आजाद, जोबट परियोजना जलाशय से 3 क्यूमेक्स नर्मदा जल ग्रेविटी प्रवाह से 27 किलोमीटर दूर जिले की अलीराजपुर तथा सोंडवा तहसील तक ले जाया जायेगा। वितरण प्रणाली के जरिये कमाण्ड क्षेत्र के प्रत्येक ढाई हेक्टेयर रकबे तक पाईप लाईन प्रणाली से जल का प्रदाय होगा। इस प्रकार किसान अपने खेत के आउटलेट से स्प्रिंक्‍लर पद्धति से सिंचाई का लाभ ले सकेगा। स्प्रिंक्‍लर चलाने के लिये प्रत्येक चक के आउटलेट पर लगभग 10 मीटर का वाटर हेड होगा। नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण द्वारा इस विस्तार योजना को 24 माह में निर्मित करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

उल्लेखनीय है कि शहीद चन्द्रशेखर आजाद, जोबट सिंचाई परियोजना का बांध स्थल अलीराजपुर जिले के ग्राम वास्केल में है। परियोजना की 9 हजार 848हेक्टेयर सिंचाई क्षमता का लाभ धार जिले को मिलता है। अब विस्तार योजना से सृजित 10 हजार हेक्टेयर सिंचाई क्षमता का लाभ अलीराजपुर जिले को मिलने लगेगा। विस्तार योजना निर्माण पर लगभग 156 करोड 58 लाख रूपये व्यय होंगे। अलीराजपुर तथा सोंडवा तहसील के 22 गाँव को सालाना 15हजार 700 हेक्टेयर सिंचाई का लाभ मिलेगा।

ग्राम वास्केल में योजना का भूमि-पूजन करने के बाद मुख्यमंत्री जोबट तहसील के ग्राम डाबरी में वृहद आदिवासी कृषक सम्मेलन में भी भाग लेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here