बस-स्टेण्ड पर सफाई कार्य की होगी शुरूआत

भोपाल, अक्टूबर 2015/ मध्यप्रदेश स्थापना दिवस पर एक नवम्बर, 2015 को प्रदेश के सभी बस-स्टेण्ड का सफाई कार्य शुरू किया जायेगा। सभी कलेक्टर कार्य-योजना तैयार कर नगरीय निकायों के सहयोग से कार्य करवायेंगे। सफाई कार्य स्थायी रूप से करवाया जायेगा। इस संबंध में सामान्य प्रशासन विभाग ने निर्देश जारी किये हैं।

राजधानी में एक नवम्बर को सुबह 11 बजे रवीन्द्र भवन में संस्कृति विभाग का कार्यक्रम होगा। भोपाल के लाल परेड ग्राउण्ड में शाम को होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम के लिये मुख्य कलाकार के चयन और अन्य कार्यक्रम के लिये संस्कृति विभाग अपने स्तर से निर्णय लेगा और स्वीकृति प्राप्त करेगा।

जिला-स्तर संकल्प

मैं सत्य निष्ठा से यह संकल्प लेता/लेती हूँ कि अपने मध्यप्रदेश के सर्वांगीण विकास के लिये अपना सर्वश्रेष्ठ योगदान दूँगा/दूँगी।

मैं यह भी प्रतिज्ञा करता/करती हूँ कि समर्पित भाव से समृद्ध प्रदेश के निर्माण तथा समाज के सभी वर्गों के कल्याण के लिये निरंतर कार्य करता रहूँगा/करती रहूँगी।

जिला-स्तर पर मुख्य समारोह सुबह 10.30 बजे होगा। कार्यक्रम की शुरूआत में मुख्य अतिथि द्वारा ध्वजारोहण किया जायेगा। इसके बाद राष्ट्र-गान होगा और मुख्यमंत्री के संदेश का वाचन किया जायेगा। उपस्थित जन-समूह को प्रदेश के विकास एवं समृद्धि के लिये दृढ़-प्रतिज्ञ होने का संकल्प भी दिलवाया जायेगा।

कार्यक्रम में जन-प्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक, उद्योगपति, व्यवसायी, समाज-सेवी, धर्मगुरु, स्वयं-सेवी संस्थाओं, केन्द्र शासन के अधिकारी, रेलवे के अधिकारी, कॉमर्शियल अधिकारी, आर्मी फोर्स के अधिकारी, शासकीय अधिकारी और कर्मचारी, जिले के स्वतंत्रता संग्राम सेनानी, मीसाबंदी और शहीद सैनिक के परिजन को आमंत्रित किया जायेगा। कार्यक्रम में समाज के सभी वर्ग की भागीदारी सुनिश्चित की जायेगी। जिला मुख्यालय पर स्थित प्रमुख शासकीय भवन पर एक नवम्बर की रात्रि को प्रकाश की व्यवस्था की जायेगी। राज्य शासन के सभी भवन पर प्रकाश व्यवस्था करने की जिम्मेदारी संबंधित कार्यालय प्रमुख की होगी।

विकासखण्ड-स्तर

विकासखण्ड-स्तर पर होने वाले कार्यक्रम का स्वरूप भी जिला-स्तर के कार्यक्रम अनुरूप होगा। इस स्तर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विकासखण्ड मुख्यालय के विधायक होंगे। विधायक के क्षेत्र में दो विकासखण्ड मुख्यालय हैं, तो वह किसी एक का चयन कर सकेंगे। जिला कलेक्टर विधायक से आवश्यक समन्वय करेंगे। विकासखण्ड में विधायक उपलब्ध नहीं होने की स्थिति में संबंधित जनपद अध्यक्ष मुख्य अतिथि होंगे।

नगर पालिका-नगर पंचायत

विकासखण्ड मुख्यालय पर स्थित नगर पालिका, नगर परिषद में अलग से कार्यक्रम नहीं होगा। विकासखण्ड मुख्यालय से भिन्न स्थान पर स्थित नगर पालिका, नगर परिषद के क्षेत्र में भी उपरोक्तानुसार ही कार्यक्रम होंगे। इसके मुख्य अतिथि संबंधित स्थानीय निकाय के अध्यक्ष रहेंगे।

ग्राम-पंचायत

ग्राम-पंचायत-स्तर पर प्रभात-फेरी निकाली जायेगी और ग्राम-सभा होगी। उपरोक्तानुसार कार्यक्रम भी होंगे, जिसकी अध्यक्षता संबंधित सरपंच करेंगे।

जिला कलेक्टर सभी स्तर पर होने वाले सभी कार्यक्रम से संबंधित तैयारियों की जानकारी से जिले के प्रभारी मंत्री को अवगत करवाकर उनकी सलाह से कार्यक्रम को अंतिम रूप देंगे।

जिन जिलों में लोकसभा और विधानसभा के उप चुनाव के लिये आदर्श आचरण संहिता प्रभावशील है, वहाँ कार्यक्रम आयोजित करते समय आदर्श आचरण संहिता का पालन करने के निर्देश दिये गये हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here