किसानों की समृद्धि को समर्पित है कृषि महोत्सव

भोपाल, सितम्बर  2014/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जन-प्रतिनिधियों से अपील की है कि वे 25 सितम्बर से शुरू हो चुके कृषि महोत्सव की विभिन्न गतिविधियों में भाग लें और किसानों की उपलब्धियों का सम्मान करते हुए उनका उत्साहवर्धन करें। उन्होंने जन-प्रतिनिधियों से आग्रह किया है कि 2 अक्टूबर से प्रारंभ होने वाले ‘स्वच्छ भारत’ अभियान को सफल बनाने के लिये समाज के हर सदस्य को इस अभियान से जोड़ें।

मुख्यमंत्री ने यहाँ मंत्रालय में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जन-प्रतिनिधियों को संबोधित करते हुए कृषि महोत्सव के दौरान होने वाले कार्यक्रमों की विस्तार से जानकारी दी। कहा कि कृषि महोत्सव किसानों की समृद्धि और विकास को समर्पित है। जिलों, विकासखण्डों और आदर्श गाँवों को कृषि एवं इससे जुड़ी गतिविधियों में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिये सम्मानित किया जायेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में दो अक्टूबर से शुरू होने वाले स्वच्छ भारत अभियान को जन-आंदोलन बनाने और स्वच्छता के प्रति लोगों में जागरूकता लाने के कार्यक्रम संचालित किये जायेंगे। प्रधानमंत्री की सोच और राज्य की इच्छाशक्ति के चलते इस अभियान को प्रत्येक नागरिक का अभियान बनाना होगा। वे स्वयं अभियान का नेतृत्व करेंगे। हर नागरिक इस अभियान में भागीदारी करेगा। शालाओं के बच्चे सक्रिय रूप से इस कार्यक्रम में भाग लेंगे। ज्ञान के मंदिर शालाओं की सफाई करना कोई बुरा काम नहीं। अस्पतालों, महाविद्यालयों, शालाओं, सब्जी मंडियों, सड़कों के किनारों और जहाँ-जहाँ कचरा इकट्ठा होता है वहाँ की सफाई की जिम्मेदारी नागरिकों को आगे बढ़कर लेना होगी। वर्ष 2018 तक खुले में शौच जाने की प्रथा को पूरी तरह समाप्त करने का संकल्प लेना होगा। इसके लिये हर घर में शौचालय होना जरूरी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here