कृषि आदान में मिलावट बर्दाश्त नहीं: उपाध्‍याय

भोपाल, मई 2013/ कृषि उत्पादन आयुक्त एम.एम.उपाध्याय ने कहा कि कृषि आदानों में मिलावट कतई बर्दाश्त नहीं की जायेगी। मिलावट खोरों को जेल भेजा जायेगा। श्री उपाध्याय ने यह सख्त ताकीद अपेक्स बैंक में आयोजित रबी 2012-13 की समीक्षा बैठक में की। इसमें खरीफ 2013 के कार्यक्रम पर भी चर्चा की गई। बैठक में प्रमुख सचिव पशुपालन प्रभांशु कमल, भोपाल संभाग कमिश्नर एस.बी.सिंह, एम.डी.राज्य सहकारी विपणन संघ अशोक वर्णवाल, एम.डी.डेयरी श्रीमती सुधा चौधरी, संभाग के कलेक्टर्स सहित विभिन्न विभागों के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

अपर मुख्य सचिव ने कहा कि कृषि के क्षेत्र में प्रदेश ने जो बढ़त बनाई है उसे बरकरार रखा जायेगा। उज्जैन क्षेत्र में मिलावट की एक घटना का जिक्र करते हुए श्री उपाध्याय ने तल्ख लहजे में कहा कि कृषि आदानों में मिलावट करने वालों को जेल की हवा खिलाई जायेगी। बायो फर्टीलाइजर में मिलावट का विपरीत असर कृषि उत्पादन पर पड़ता है जिसकी अनदेखी नहीं की जा सकती।

सबसे बड़ा हार्टीकल्चर कॉरीडोर

श्री उपाध्याय ने बताया कि भोपाल और इन्दौर के बीच देश का सबसे बड़ा हार्टीकल्चर कॉरीडोर निर्मित किया जायेगा जिसके लिए स्वीकृति हो चुकी है। इस सुविचारित योजना में ग्रीन एवं पॉली हाउसेज का जाल बिछाया जायेगा।

बीस फीसदी बढ़त का दावा

अपर मुख्य सचिव ने यह दावा किया कि प्रकृति की अनुकूलता के चलते खरीफ 2013 में 20 फीसदी बढ़त हासिल की जायेगी। प्रदेश में कुछ ऐसे संभाग भी हैं जहां उत्पादन 30 फीसदी तक बढ़ा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here