गरीबों को खाद्यान्न वितरण के विशेष इंतजाम करें: शिवराज

भोपाल, अगस्‍त 2013/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने निर्देश दिये कि खाद्य सुरक्षा कानून लागू होने और मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा योजना में बढ़ती हितग्राहियों की संख्या को देखते हुये संभागायुक्तों और जिला कलेक्टरों को खाद्यान्न वितरण के लिये विशेष इंतजाम करने चाहिए। हर माह सात तारीख तक राशन का वितरण हो जाना चाहिए। हितग्राहियों की सूची में मुख्यमंत्री मजदूर सुरक्षा योजना, भवन संनिर्माण कर्मकार मंडल में पंजीकृत मजदूरों, गाँव-शहरों में रहने वाले बेसहारा और नि:शक्त लोगों, हाथठेला-रिक्शा चलाने वालों को भी इस योजना का लाभ मिलेगा। उनके नाम जोड़ने के काम को प्राथमिकता दें। मुख्यमंत्री युवा स्व-रोजगार योजना के हितग्राहियों का सम्मेलन 26 अगस्त को भोपाल में होगा। श्री चौहान समाधान आन लाइन कार्यक्रम में वीडियो कान्फ्रेसिंग के माध्यम से कलेक्टर और संभागायुक्तों से चर्चा कर रहे थे।

सरदार वल्लभ भाई पटेल नि:शुल्क दवा वितरण योजना को प्रभावी बताते हुये मुख्यमंत्री ने कलेक्टरों को निर्देश दिये कि वे योजना के क्रियान्वयन पर लगातार निगरानी रखें और दवाओं का भण्डारण बनाये रखें। अस्पताल आने वाले हर मरीज को दवा मिलनी चाहिये। दवाओं के लिये पैसों की कोई कमी नहीं है।

मुख्यमंत्री ने शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों में गरीबों को आवासीय पट्टा वितरण के लिये केम्प लगाने के निर्देश दिये। इस साल ज्यादा वर्षा के कारण खराब हुई सड़कों को तत्काल सुधारने की आवश्यकता बताते हुए उन्होंने कहा कि बरसात के तुरंत बाद मरम्मत का काम शुरू हो जाना चाहिये।

मुख्यमंत्री ने बताया कि 26 अगस्त को भोपाल में मुख्यमंत्री युवा स्व-रोजगार योजना के हितग्राहियों का राज्य स्तरीय सम्मेलन होगा। सभी संभाग से इस योजना के हितग्राही सम्मेलन में शामिल होंगे। इसी बीच राज्य स्तरीय रोजगार मेलों का भी आयोजन किया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here