गौहर महल में ‘लाड़ली उत्सव’ आरंभ

भोपाल, मार्च 2013/ जल संसाधन मंत्री जयंत मलैया ने कहा है कि महिलाओं की तरक्की और विकास के लिए राज्य सरकार ने अनेक योजनाएँ संचालित की हैं, जिनका लाभ लेकर वे अपनी अलग पहचान बना सकती हैं। श्री मलैया यहां गौहर महल में पाँच दिवसीय ‘लाड़ली उत्सव’ का शुभारंभ कर रहे थे।

उन्‍होंने कहा कि प्रदेश में महिलाओं ने अलग-अलग विधाओं में तेजी के साथ आगे आकर गौरव बढ़ाया है। महिला शिल्पियों की उत्कृष्ट कलाकृतियों एवं उत्पादों को बढ़ावा देने की आवश्यकता है।

कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रही महिला-बाल विकास मंत्री श्रीमती रंजना बघेल ने कहा कि महिलाओं के कल और आज के समय में जमीन और आसमान का अंतर आया है। अब महिलाओं में जागृति बढ़ी है और वे आत्म-निर्भर बन रही हैं। महिला-बाल विकास विभाग द्वारा जन्म से मृत्यु तक के लिए अभिनव योजनाएँ प्रारंभ की गई हैं।

बाल प्रतिभाएँ सम्मानित

कार्यक्रम में मंत्री द्वय द्वारा सृजनात्मक क्षेत्रों में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाले बच्चों को सम्मानित किया गया। राष्ट्रीय बालश्री अवार्ड के लिए चयनित पाँच बच्चों को दस-दस हजार, क्षेत्रीय स्तर पर चयनित चार बच्चों को पाँच-पाँच और प्राथमिक स्तर पर चयनित पाँच बच्चों को तीन-तीन हजार रुपये एवं प्रशस्ति-पत्र दिये गये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here