ग्रामीण युवाओं को रोजगार दें

भोपाल: ग्रामीण युवाओं को रोजगार से जोड़ने के लिये विशेष कार्य योजना बनाने के निर्देश दिये गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा है कि यह सर्वोच्च प्राथमिकता का क्षेत्र है। ग्रामीण क्षेत्रों में काम कर रहे स्व-सहायता समूहों को सशक्त  बनाकर उन्हें आर्थिक उद्यमिता से जोड़ना होगा।

पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा करते हुए श्री चौहान ने कहा कि केन्द्रीय सहायता से चलने वाली योजनाओं में यदि राशि मिलने में देरी हो तो संबंधित केंद्रीय मंत्री को तत्काल सूचित करें। 

श्री चौहान ने नल-जल योजना वाले 9585 गाँवों के अलावा भी मर्यादा अभियान चलाने के निर्देश दिये। बैठक में बताया गया कि विभिन्न् योजनाओं को एक साथ लाने से अब शौचालय निर्माण के  लिये नौ हजार रूपये मिल सकेंगे। मुख्यमंत्री ग्रामीण सड़क योजना में दिसम्बर तक 5037 किलो मीटर और जून 2013 तक 7575 किलो मीटर सड़कें बन जाएंगी। एक लाख 60 हजार वन भूमि पट्टाधारकों को मनरेगा का लाभ दिलाया जायेगा।

मुख्यमंत्री ने कुशाभाऊ ठाकरे ग्राम पंचायत भवनों के निर्माण में तेजी लाने को कहा। बताया गया कि धार एवं सीहोर जिला पंचायत, हरदा एवं शाहपुर (बैतूल) जनपद पंचायत एवं 12 ग्राम पंचायत को राष्ट्रीय स्तर पर सम्मानित किया गया है। पहली बार एक करोड़ 40 हजार की पुरस्कार राशि सीधे पंचायतों के खातों में जमा की गई है।

बैठक में ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव, राज्य मंत्री देवसिंह सैयाम एवं वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here