चिकित्सा व्यवस्था में सुधार के लिये बनेगी समिति

भोपाल, दिसम्बर 2015/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि चिकित्सा व्यवस्था में सुधार के सुझाव देने के लिये चिकित्सकों की समिति बनायी जायेगी। श्री चौहान यहाँ गाँधी मेडिकल कॉलेज के हीरक जयंती समारोह को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में चिकित्सा सुविधाओं में विस्तार और सुधार के लिये निरंतर प्रयास किये जा रहे हैं। सभी शासकीय चिकित्सालयों में नि:शुल्क दवाई और जाँच की व्यवस्था की गयी है। सभी जिला चिकित्सालय में आगामी 26 जनवरी तक डायलेसिस की सुविधा शुरू हो जायेगी। चिन्हित शासकीय अस्पतालयों में कीमोथेरेपी की सुविधा भी उपलब्ध करवायी जायेगी। प्रदेश में सात नये मेडिकल कॉलेज खोलने का निर्णय लिया गया है। प्रदेश में चिकित्सकों की कमी को दूर करने के लिये सेवा नियमों को उदार बनाया गया है। आम आदमी को सस्ता और सुलभ इलाज उपलब्ध हो इसके लिये जरूरी व्यवस्थाएँ की गयी हैं। मध्यप्रदेश विकास दर के क्षेत्र में देश में अग्रणी है। प्रदेश की कृषि विकास दर देश में सर्वाधिक है। सड़क, बिजली और अधोसंरचना के क्षेत्र प्रदेश ने उल्लेखनीय प्रगति की है। गांधी मेडिकल कॉलेज का गौरवशाली इतिहास रहा है। इसके पूर्व छात्रों की मदद से नव-सज्जित सभागृह को और बेहतर स्वरूप दिया जायेगा।

कार्यक्रम में डॉ. सी. जी. चौबल ने स्वागत भाषण दिया। कार्यक्रम में सांसद डॉ. विजयलक्ष्मी साधो, डॉ. जी. एस. पटेल, डॉ. एच. एस. त्रिवेदी, डॉ. अनूप हजेला और डॉ. लूणावत सहित बड़ी संख्या में संस्थान के पूर्व चिकित्सक छात्र उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here