जवाबदेह प्रशासन के लिये पुरस्कृत होंगे पंचायत निकाय

भोपाल, सितम्बर 2014/ केन्द्र सरकार द्वारा पंचायतों के सशक्तिकरण एवं जवाबदेह प्रशासन पुरस्कार योजना में इस वर्ष जिला पंचायत, हरदा एवं मुरैना को पुरस्कृत किया जायेगा। इन जिला पंचायत को पुरस्कार-स्वरूप 50-50 लाख की राशि एवं प्रशस्ति-पत्र दिया जायेगा। पुरस्कार वितरण समारोह 4 सितम्बर को होटल जहाँनुमा पेलेस में प्रात: 10 बजे होगा। पुरस्कार वितरण पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव एवं वन मंत्री गौरीशंकर शेजवार करेंगे।

केन्द्र सरकार ने पंचायतों के सशक्तिकरण एवं जवाबदेह प्रशासन को प्रोत्साहित किये जाने के लिये पुरस्कार योजना लागू की है। योजना में श्रेष्ठ रूप से विकास कार्य एवं पंचायत के दायित्वों का निर्वहन करने वाली 3 स्तर की पंचायत, जिला, जनपद एवं ग्राम-पंचायत को पुरस्कृत किया जाता है। वर्ष 2013 में जिला पंचायत हरदा एवं मुरैना को श्रेष्ठ कार्य के लिये पुरस्कृत किया जायेगा। पुरस्कार-स्वरूप 50-50 लाख की राशि एवं प्रशस्ति-पत्र दिया जायेगा। जनपद-पंचायत घाटीगाँव और मंदसौर को 25-25 लाख रुपये एवं प्रशस्ति-पत्र भेंट किया जायेगा।

प्रदेश की 12 ग्राम-पंचायत को 8-8 लाख का पुरस्कार एवं प्रशस्ति-पत्र भेंट किया जायेगा। जिन ग्राम-पंचायत को पुरस्कृत किया जायेगा, उनमें हरदा जिले की ग्राम-पंचायत छिदगांवमेल, आबगाँवखुर्द, निमाचाखुर्द, कडौलाउबारी और ग्राम-पंचायत बिच्छापुर है। देवास जिले की ग्राम-पंचायत आगुरली, जबलपुर जिले की ग्राम-पंचायत धौदा, सागर जिले की जनपद पंचायत रहली की ग्राम-पंचायत संजारा, बिछिया, खेजड़ाउद्देत हैं। ग्वालियर जिले की ग्राम-पंचायत नयागाँव और राजगढ़ जिले की ग्राम-पंचायत करेड़ी को भी पुरस्कृत किया जायेगा।

इन पंचायत में बैठकों का आयोजन नियमित, सदस्यों की शत-प्रतिशत उपस्थिति, बैठक में निर्णयों का पालन तत्परतापूर्वक किया जाना, ग्राम सभा की बैठक नियमित बुलाये जाना प्रमुख रहा है। इसके अलावा ग्राम-पंचायत के कार्यों का सोशल ऑडिट, ग्राम सभा की आम सहमति से हितग्राहियों का चयन, वार्षिक बजट तैयार करना, करा-रोपण से पंचायत की आमदनी बढ़ाया जाना एवं विकास योजना के लिये प्राप्त धनराशि का समुचित रूप से उपयोग किया जाना प्रमुख रहा है। इन पंचायत में महिलाओं के विकास की तरफ विशेष ध्यान दिया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here