ठण्ड से बचाव के सभी इंतजाम करें

भोपाल, जनवरी 2015/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ठण्ड से बचाव के लिये हरसंभव इंतजाम करने के निर्देश दिये हैं। कहा कि कोई गरीब सड़क पर नही सोये। छत उपलब्ध करवायी जाय, कम्बलों की व्यवस्था की जाय और अलाव लगाये जायें। स्थानीय परिस्थिति के अनुसार स्कूलों की समय-सारणी निर्धारित की जाये।

श्री चौहान ने यहाँ वीडियो कांफ्रेसिंग में सभी संभागायुक्त को निजी तौर पर इस संबंध में रूचि लेने और जिला प्रशासन को सक्रिय करने के निर्देश दिये। श्री चौहान ने बीती रात भोपाल नगर में अपने भ्रमण का जिक्र करते हुए बताया कि रैन बसेरों में दिये गये कम्बल पतले थे। आवश्यक होने पर दो-दो कम्बल दिये जाये। संभागायुक्त रैन बसेरों की व्यवस्था स्वयं देखने जाएं। जहाँ रैन बसेरे नहीं हैं वहाँ वैकल्पिक व्यवस्था की जाये। प्रदेश में कहीं ठण्ड से मृत्यु नहीं होने पाये।

मुख्यमंत्री ने अभी हाल ही में प्रदेश के 34 जिले में हुई वर्षा का भरपूर लाभ उपलब्ध करवाने के लिये किसानों से सतत संपर्क रखने और उनकी समस्या का समाधान करने को कहा। उर्वरक पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। आवश्यकता वितरण व्यवस्था चुस्त-दुरूस्त रखने की है। उर्वरक की कहीं भी कालाबाजारी नहीं होने पाये। वितरण व्यवस्था में गड़बड़ी पाये जाने पर आपराधिक प्रकरण दायर कर संबंधितों को जेल भेजा जाय। मुख्यमंत्री ने फसलों को पाले से बचाने के लिये किसानों को आवश्यक उपाय जैसे मेढ़ों के किनारे आग जलाने, खरपतवार नष्ट करने, खेतों में पानी का छिड़काव करने सहित अन्य बचाव की जानकारी देने के निर्देश दिये। दो वर्ष पहले ऐसी ही ठंड के चलते प्रदेश के अनेक क्षेत्रों में पड़े पाले का विशेष जिक्र करते हुए कहा कि अभी आगे और ठण्ड पड़ सकती है। फसल बर्बाद नहीं होने पाये इसकी चिंता करते हुए तमाम आवश्यक इंतजाम किये जाये।

मुख्यमंत्री ने होशंगाबाद, सीहोर, ग्वालियर, रायसेन आदि जिलों में किसानों से बासमती धान कम कीमत पर खरीदे जाने की शिकायतें मिलने का उल्लेख करते हुए कहा कि कहीं भी औने-पौने दामों पर बासमती धान नहीं बिकने दी जाय। शिकायत मिलने पर प्रदेश स्तर पर की गई कार्रवाई से बासमती धान की कीमत में लगभग 150 रूपया प्रति क्विंटल की वृद्धि हुई है। श्री चौहान ने संभागायुक्तों को प्रदेश के सभी जिलों में आगामी 12 जनवरी को सामूहिक सूर्य नमस्कार की व्यवस्थाएँ करने को कहा। वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान मुख्य सचिव अन्टोनी डिसा भी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here