ढाई लाख छात्रों को करीब 200 करोड़ की छात्रवृत्ति

भोपाल। मध्यप्रदेश में इस वर्ष अनुसूचित जाति वर्ग के 2 लाख 57 हजार विद्यार्थियों को पोस्ट-मेट्रिक छात्रवृत्ति के रूप में 198 करोड़ की राशि वितरित की गई है। इस वर्ष पोस्ट-मेट्रिक छात्रवृत्ति के लिए 221 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। शिक्षण संस्थाओं को पोस्ट-मेट्रिक छात्रवृत्ति की राशि दो किश्त में वितरित किए जाने के निर्देश दिए गए हैं।

पोस्ट-मेट्रिक छात्रवृत्ति कक्षा 11 से लेकर महाविद्यालयीन विद्यार्थियों को वितरित की जा रही है। इस छात्रवृत्ति में केन्द्र सरकार द्वारा वार्षिक आय सीमा 2 लाख निर्धारित की गई है, लेकिन राज्य सरकार ने इस वार्षिक आय सीमा को बढ़ाकर 3 लाख रुपये किया है। इसके लिए पोस्ट-मेट्रिक छात्रवृत्ति की राशि के कुछ अंश की प्रतिपूर्ति राज्य सरकार अपने स्त्रोतों से कर रही है। पिछले वर्ष प्रदेश में 2 लाख 26 हजार विद्यार्थियों को पोस्ट-मेट्रिक छात्रवृत्ति के रूप में 2 करोड़ 26 लाख की राशि वितरित की गई थी।

प्रदेश में पोस्ट-मेट्रिक छात्रवृत्ति के लिए अभी भी शैक्षणिक संस्था स्तर पर शिविर लगा कर स्वीकृति आदेश जारी किए जा रहे हैं। पोस्ट-मेट्रिक छात्रवृत्ति गैर-छात्रावासी विद्यार्थी को 550 रुपये और छात्रावासी विद्यार्थी को 1200 रुपये प्रतिमाह की दर से स्वीकृत की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here