तीर्थ-दर्शन योजना: 977 तीर्थ-यात्री जाएँगे अजमेर शरीफ

मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना की दूसरी यात्रा के लिए ट्रेन 13 सितम्बर को अजमेर शरीफ के लिए रवाना होगी। गौरतलब है कि सोमवार को मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना की पहली ट्रेन रामेश्वरम के लिए रवाना की गयी। अजमेर शरीफ की तीर्थ-यात्रा में भोपाल, होशंगाबाद और उज्जैन संभाग के 977 वृद्धजन शामिल होंगे। इसके बाद 20 सितम्बर से 31 दिसम्बर तक विभिन्न जिला एवं संभागीय मुख्यालयों से 19 ट्रेन रवाना होकर बुजुर्गों को तीर्थ-दर्शन करवायेंगी।

तीर्थ-यात्रियों को अजमेर शरीफ ले जाने वाली ट्रेन भोपाल के हबीबगंज स्टेशन से 13 सितम्बर को रवाना होगी और रास्ते में उज्जैन और रतलाम स्टेशन में रूकेगी। अजमेर शरीफ से 15 सितम्बर को वापसी पर भी ट्रेन रतलाम और उज्जैन रूकेगी। भोपाल और होशंगाबाद संभाग के तीर्थ-यात्री हबीबगंज स्टेशन से ही ट्रेन में बैठेंगें। उज्जैन संभाग के यात्रियों के लिए बैठने की व्यवस्था उज्जैन अथवा रतलाम से उज्जैन के कमिश्नर द्वारा की जाएगी।

अजमेर शरीफ की तीर्थ-यात्रा में जिला राजगढ़ से 48, विदिशा से 71, भोपाल से 244, सीहोर से 63, रायसेन से 58, बैतूल से 18, हरदा से 16, होशंगाबाद से 25, उज्जैन से 110, शाजापुर से 81, देवास से 78, रतलाम से 72, मंदसौर से 61 और नीमच से 32 तीर्थ-यात्री शामिल होंगे। यात्रियों की सहायता के लिए 21 अनुरक्षक भी जाएँगे।

अजमेर शरीफ की यात्रा के लिए जिन आवेदक का चयन इस यात्रा के लिए नहीं होगा, उनके आवेदन-पत्र यथावत रहेंगे। भविष्य में होने वाली अजमेर शरीफ की यात्रा के लिए उन्हें दोबारा आवेदन नहीं देना पड़ेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here