देश की पावर केपिटल बनेगा मध्यप्रदेश : अनिल अंबानी

इंदौर, अक्‍टूबर 2012/ ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट के दूसरे दिन उद्योग समुदाय के ख्यातिनाम निवेशकों ने मुख्यमंत्री श्री चौहान की प्रदेश का विकास करने की लगन और निवेश मित्र वातावरण बनाने की भरपूर प्रशंसा की। निवेशक समुदाय ने श्री चौहान को दूरदृष्टा और विकास के लिये प्रतिबद्ध बताया।

अनिल धीरूभाई अंबानी समूह के श्री अनिल अंबानी ने प्रदेश में औद्योगिक वातावरण बनाने के मुख्यमंत्री के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान आँखें खुली कर सपना देखते हैं इसलिये वे दूरदृष्टा मुख्यमंत्री हैं। मुख्यमंत्री में तीन विशेष गुण हैं – साहस, दृढ़ निश्चय और देखभाल।  रिलायंस समूह मध्यप्रदेश में निवेश करने वाला सबसे बड़ा समूह है। उन्होंने घोषणा की कि मध्यप्रदेश में 20 हजार करोड़ रूपये का निवेश बढ़ाया जायेगा जो अगले सालों में 50,000 करोड़ तक पहुँच जायेगा। उन्होंने मुख्यमंत्री की निवेश नीतियों और कार्यक्रमों की सराहना करते हुए उनके सम्मान में सभी प्रतिभागियों से खड़े होकर ताली बजाने और सम्मान करने का आग्रह किया। श्री अंबानी के आग्रह पर हाल में उपस्थित सभी निवेशकों ने खड़े होकर श्री चौहान के सम्मान में तालियाँ बजाई।

श्री अंबानी ने कहा कि कोल स्टोन खनन और उर्जा उत्पादन में निवेश किया गया है। चार हजार मेगावाट उर्जा उत्पादन होगा और 25 मिलियन टन कोल स्टोन का खनन होगा। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश को 1 रूपये 19 पैसे प्रति यूनिट की दर से बिजली उपलब्ध करवाई जायेगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की नीतियों और सहयोग से मध्यप्रदेश देश की ”पावर केपिटल” बनेगा। राज्य में अधोसंरचनात्मक सुविधाएँ मिलने से उर्जा उत्पादन का लक्ष्य 2000 मेगावाट बढ़ा दिया जायेगा। इसी प्रकार कोल स्टोन खनन में पाँच मिलियन टन का लक्ष्य बढ़ाया जायेगा।

एस्सार समूह के शशि रूइया ने कहा कि मध्यप्रदेश प्रमुख आर्थिक संसाधन के रूप में उभरेगा। उन्होंने कहा कि छह हजार करोड़ का निवेश उर्जा उत्पादन और स्टील प्रसंस्करण के क्षेत्र में किया गया है। अगले माह से उर्जा उत्पादन का काम शुरू हो जायगा। उन्होंने बताया कि भोपाल, छिंदवाड़ा और इंदौर में व्यवसायिक विस्तार होगा।

कल्याणी समूह के अध्यक्ष बाबा कल्याणी ने कहा कि मध्यप्रदेश जल्दी ही आटोमेटिव हब बनेगा। उन्होंने कारण बताते हुए कहा कि मध्यप्रदेश सर्वश्रेष्ठ शासित राज्य है। यहाँ का प्रशासन तंत्र सहयोगी है और मुख्यमंत्री क्षमतावान है। उन्होंने कहा कि अगले दस साल में आटोमेटिव के निर्माण सेक्टर में निवेश कई गुना बढ़ा है। फ्यूचर ग्रुप के श्री किशोर बियाणी ने राज्य सरकार को सहयोग के लिये धन्यवाद दिया।

नेसकाम के अध्यक्ष कृष्ण कुमार नटराजन ने कहा कि मध्यप्रदेश में प्रतिभा अधोसंरचना, प्रशासनिक सहयोग और उद्यमिता की भावना उपलब्ध है। इसलिये प्रदेश में सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में विकास और विस्तार की असीम संभावनाएँ हैं।

फोर्स मोटर के अभय फिरोदिया ने मध्यप्रदेश में उद्योग स्थापना के अनुभव बताते हुए कहा कि पहले बिजली, पानी और सड़कों की कमी से वर्षों जूझते रहे मध्यप्रदेश में अब परिदृश्य पूरी तरह बदल गया है। उन्होंने बदले परिदृश्य का पूरा श्रेय मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को दिया। उन्होंने कहा कि जैसा मध्यप्रदेश में हुआ है वैसा देश में हो जाये तो पूरा दृश्य ही बदल जायेगा। उन्होंने कहा कि सुशासन, अधोसंरचना निर्माण और उद्योग मित्र वातावरण से ही औद्योगिक विकास तेजी से हो सकता है।

श्री फिरोदिया ने मध्यप्रदेश में 1984 में हुए आगमन से अब तक के अनुभव को बहुत रोचक तरीके से व्यक्त करते हुए पिछले आठ-दस वर्ष के समय को चमत्कारिक बताया। उन्होंने बताया कि पीथमपुर में उद्योग स्थापना के उस दौर में सड़कें खोजना पड़ती थीं। बिजली कभी-कभी ही आती थी। टेलीफोन नहीं थे। वह कठिनाइयों का संघर्ष भरा दौर था। आज यहाँ रोड, विद्युत व्यवस्था, प्रशासन का सकारात्मक रूख, सब अदभुत है। इसका श्रेय उन्होंने मुख्यमंत्री श्री चौहान के कुशल नेतृत्व को दिया। उन्होंने कहा कि पहले मंद प्रदेश कहलाने वाला मध्यप्रदेश आज मजबूत प्रदेश बन गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में उनकी कंपनी निवेश का विस्तार करेगी।

प्रसि्द्ध उद्योगपति आदि गोदरेज ने यह कहते हुए उपस्थित निवेशकों से ताली बजाकर मध्यप्रदेश का स्वागत करवाया कि यहाँ का अदभुत विकास हुआ है। इसका श्रेय मुख्यमंत्री श्री चौहान के डायनामिक नेतृत्व को है। उन्होंने कहा कि उद्योगों को 24 घंटे बिजली देने वाला देश का पहला राज्य है मध्यप्रदेश।

टाटा इंटरनेशनल के वाइस प्रेसीडेंट बी. मुथ्थुरमन का कहना था कि मध्यप्रदेश श्रेष्ठ सुशासन, प्रशासन और कानून व्यवस्था वाला राज्य है। मुख्यमंत्री श्री चौहान प्रदेश को विकास के शीर्ष तक ले जाने के लिये संकल्पबद्ध होकर कार्य कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here