देश के मामले में कट्टरता होनी चाहिए- उमा भारती

uma-bharti-1केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने जेएनयू मामले पर कहा है कि देश के मामले में कट्टरता होनी चाहिए. उन्होंने ये भी कहा कि इस मुद्दे पर हो रही राजनीति से देश को नुकसान पहुंच रहा है.

उमा भारती टीकमगढ़ में कुंडेश्वर शिव मंदिर पूजा करने पहुंची थी. बाबा भोलेनाथ का अभिषेक और पूजा-पाठ कर उन्होंने पार्टी के लोगों के साथ ही मीडिया से भी बात की.

जेएनयू के मामले पर उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर राजनीतिक दल अब राजनीति कर रहे हैं. उमा भारती ने कहा कि हमें धर्म के मामले में उदार होना चाहिए, लेकिन राष्ट्र के मामले में उदारता नहीं रखनी चाहिए, बल्कि राष्ट्र के मामले में तो कट्टरता होनी चाहिए.

जेएनयू विवाद को राजनीतिक हवा मिलने के मामले में उमा ने सभी पार्टियों पर निशाना साधते हुए कहा कि सभी राजनीतिक दल पीएम नरेंद्र मोदी को बदनाम करने की साजिश कर रहे हैं. उन्हें घटनाओं और उसके प्रभाव से मतलब नहीं है. ऐसे में उनके बयान देश को नुकसान पहुंचाने का काम कर रहे हैं.

क्या है मामला

दरअसल, 9 फरवरी को जेएनयू परिसर में संसद हमले के दोषी अफजल गुरु की बरसी पर कार्यक्रम आयोजित किया गया था. आरोप है कि इस कार्यक्रम में भारत विरोधी नारे लगाए गए थे.

पूर्वी दिल्ली से भाजपा सांसद महेश गिरी की शिकायत पर पुलिस ने कई लोगों के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज किया है, जिसमें कन्हैया पर भी इस मामले में शामिल होने के आरोप पर पुलिस ने गिरफ्तार कर पूछताछ कर रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here