नैतिक शिक्षा छात्र-छात्राओं के लिए जरूरी

भोपाल, नवम्बर 2015/ राज्यपाल राम नरेश यादव को मध्यप्रदेश आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय, जबलपुर के कुलपति डॉ. डी.पी. लोकवानी ने यूनेस्को द्वारा मेडिकल छात्रों के लिए नैतिक शिक्षा का पाठ्यक्रम शुरू करने के लिए (यूनेस्को चेयर आफ बॉयोथिक्स) की स्थापना के लिए दिये गये चार्टर की प्रति भेंट की। राज्यपाल ने विश्वविद्यालय के पदाधिकारियों और शिक्षकों को बधाई और शुभकामनाएँ देते हुए कहा कि नैतिक शिक्षा सभी छात्र-छात्राओं के लिए जरूरी है। इस पीठ की स्थापना से मेडिकल छात्रों में नैतिक शिक्षा का प्रसार हो सकेगा और इस दिशा में यह मील का पत्थर सिद्ध होगा।

कुलपति डॉ. लोकवानी को 7 नवम्बर, 2015 को दिल्ली में आस्ट्रेलिया के चेयरपर्सन डॉ. रॉसल ने उक्त पीठ स्थापना का चार्टर प्रदान किया था। जीव नैतिक पीठ की स्थापना के लिए देश में अभी तक केवल छ: मेडिकल विश्वविद्यालयों को चार्टर दिया गया है। इस पीठ के अंतर्गत यूनेस्को द्वारा तैयार मेडिकल छात्र-छात्राओं को नैतिक शिक्षा का पाठ्यक्रम पढ़ाया जायेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here