पर्यटन बढ़ाने के लिये प्रदेश की खूबियाँ प्रचारित हों

भोपाल, अगस्त 2015/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश के पर्यटन को बढ़ावा देने के लिये यहाँ की खूबियों को दुनिया में प्रचारित किया जायेगा। इससे देश और दुनिया के लोग मध्यप्रदेश के पर्यटन के प्रति आकर्षित होंगे। उन्होंने इसकी पूरी कार्य-योजना बनाने के लिये पर्यटन विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया।

मुख्यमंत्री ने पर्यटन वर्ष के कार्यों की समीक्षा के दौरान कहा कि हमारा मध्यप्रदेश खूबसूरत जंगल, नेशनल पार्क, बेजोड़ पुरा-वैभव और विरासतीय पर्यटन से समृद्ध है। इन विशेषताओं को देश और दुनिया में प्रचारित करने वाले कार्यक्रम किये जायें। इससे प्रदेश का आकर्षण अंतर्राष्ट्रीय फलक पर उभरेगा और विदेशी पर्यटकों में प्रदेश के प्रति आकर्षण बढ़ेगा।

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को कहा कि पर्यटन को प्रोत्साहित करने के लिये देश के साथ विदेशों में भी प्रचार किया जाये। इसके साथ ही सिंहस्थ की भी प्रभावी ढंग से ब्रांडिंग की जाये। इससे प्रदेश के पर्यटन और सिंहस्थ महाकुंभ की दुनियाभर में चर्चा हो। उन्होंने कहा कि सिंहस्थ से पहले एक बड़ा ईवेंट किया जाये।

इस मौके पर मुख्यमंत्री ने पुराने विधानसभा भवन मिंटो हाल को संरक्षित करने और संवारने के लिये पर्यटन विभाग को निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि इस ऐतिहासिक भवन को कन्वेंशन सेंटर के रूप में परिवर्तित किया जाये। मुख्यमंत्री ने विश्व हिन्दी सम्मेलन की तैयारियों की भी जानकारी ली। इस अवसर पर पर्यटन वर्ष में किये गये कार्यों एवं गतिविधियों की समीक्षा की गई। बैठक में बताया गया कि 14 अप्रैल 2015 से पर्यटन वर्ष शुरू हुआ है। वर्ष के अंतर्गत पर्यटन को प्रोत्साहित करने वाले विभिन्न कार्यक्रम किये जा रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here