पुलिस सहायता केन्द्र वर्किंग रहे

भोपाल, फरवरी 2015/ गृह एवं जेल मंत्री बाबूलाल गौर ने कहा कि थाना क्षेत्रों में जो पुलिस सहायता केन्द्र हैं, वहाँ पर जिसकी तैनाती है, उसका नाम, नम्बर लिखा जाये। सहायता केन्द्र वर्किंग रहें, वरिष्ठ अधिकारी यह सुनिश्चित करें। भोपाल में औचक निरीक्षण पर निकले श्री गौर को गाँधी मार्केट थाना पिपलानी का पुलिस सहायता केन्द्र बंद मिला। उन्होंने डीआईजी डी. श्रीनिवास वर्मा और पुलिस अधिकारियों से कहा कि स्थानीय नागरिक भी बता रहे हैं कि सहायता केन्द्र नियमित नहीं खुलता।

श्री गौर ने थाना गोविंदपुरा, पिपलानी और जहाँगीराबाद का भी आकस्मिक निरीक्षण किया। थाना परिसर में जब्त पड़े कंडम वाहनों और गंदगी पर नाराजगी व्यक्त की। कहा कि थाना परिसर स्वच्छ रखे जायें और जब्त और कंडम वाहन हटाने की कार्यवाही की जाये। इन थानों में मौजूद पुलिसकर्मियों की यूनिफार्म का भी निरीक्षण किया। यूनीफार्म में एकरूपता नहीं पाये जाने पर उन्होंने कहा कि यूनिफार्म अनुशासन के लिये है। यूनिफार्म के तय मानदण्डों में रंग आदि का विशेष ध्यान रखा जाये। कुछ ने हल्के गहरे रंग के और कुछ ने सामान्य रंग के पेंट-शर्ट और इसी तरह जूते पहन रखे हैं। निर्धारित रंग और मानदण्ड की यूनिफार्म होना चाहिये। इसका कड़ाई से पालन करवाया जाये। पिपलानी थाना क्षेत्र में गंदगी पर उन्होंने नाराजगी जाहिर की और कहा कि थाना परिसर स्वच्छ हों, इसका भी ध्यान रखें। जहाँगीराबाद थाना में निरीक्षण के दौरान पृथक महिला कक्ष नहीं होने पर श्री गौर ने कहा कि महिला कक्ष जल्दी बनाया जाये। चर्चा में पुलिसकर्मियों ने उन्हें बताया कि माह में एक दिन के अनिवार्य अवकाश की सुविधा उन्हें नहीं मिल रही है। श्री गौर ने डीआईजी से कहा कि वह इस बात को सुनिश्चित करें कि हर पुलिसकर्मी को माह में एक अवकाश मिले।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here