पैदल व साइकिल से दफ्तर आने वाले सम्मानित

भोपाल, अगस्त, 2015/ एक अनोखे सम्मान समारोह में प्रतिदिन पैदल और सायकिल से मंत्रालय आने वाले शासकीय सेवक सम्मानित किए गए। उच्च शिक्षा मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने मंत्रालय सभा कक्ष में प्रतिभा सम्मान समारोह में प्रतिभाशाली विद्यार्थियों के साथ ही नियमित योग अभ्यास करने वाले, योग प्रशिक्षक, गौ-सेवक, माता-पिता एवं सास-श्वसुर के साथ संयुक्त परिवार में रहने वाले शासकीय सेवक को भी पुरस्कृत किया। समारोह में ऐसे चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी, जिन्होंने अल्प वेतन में बच्चों को उच्च शिक्षा दिलवाई, को भी सम्मानित किया गया।

उच्च शिक्षा मंत्री ने प्रतिभावान छात्र-छात्राओं को सम्मान-पत्र और उपहार देते हुए बधाई दी। सम्मानितों को जिंदगी में अच्छी सफलता के लिए शुभकामनाएँ दीं। कहा कि यह प्रतियोगी दौर है – साधारण परिश्रम से कामयाबी नहीं मिलेगी, ज्यादा परिश्रम करना होगा। प्रतिभा के सामने अभाव परास्त हो जाते हैं। विशिष्ट अतिथि मुख्यमंत्री के सलाहकार शिव चौबे ने कहा कि गौ-पालन और गौ-संरक्षण को प्रोत्साहित करने के लिए भविष्य में भी गौ-सेवियों को अन्य मंचों पर सम्मानित किया जाएगा।

मंत्रालयीन कर्मचारी संघ के अध्यक्ष सुधीर नायक ने संघ की गतिविधियों की जानकारी दी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here