प्रदेश में सफल हो रही मल्टीनेशनल कम्पनियां

भोपाल, सितम्बर 2014/ देश के मध्य स्थित होने और राज्य सरकार की निवेश हितैषी नीतियों के कारण बीते वर्षों में मध्यप्रदेश में अनेक मल्टीनेशनल कम्पनी ने यहाँ अपने उद्योग लगाये हैं तथा विस्तार किया है। इन कम्पनी में अमेरिका की जॉन डियरे, स्वीडन की एग्जोनोबल, चीन की ल्यूगांग इंडिया, यूएसए की कमिन्स टर्बो टेक्नोलॉजिस, स्वीडन के व्ही.ई. कमर्शियल व्हीकल्स, यूके की रियो टिन्टो और इजरायल की टेवा फार्मास्युटिकल्स प्रमुख हैं।

जॉन डियरे, देवास

इस अमरीकी कम्पनी ने वर्ष 2011 में अपनी देवास ट्रेक्टर विनिर्माण इकाई का निर्माण शुरू किया। लगभग 97 एकड़ क्षेत्रफल और 400 करोड़ की लागत की इस इकाई का कार्य अक्टूबर 2013 में पूर्ण किया गया। पचास हजार ट्रेक्टर निर्माण की क्षमता वाले इस कारखाने में छोटे एवं सीमांत किसानों के उपयोग के 35 से 55 हार्स पॉवर के ट्रेक्टरों का निर्माण किया जाता है।

एग्जोनोबल इंडिया लिमिटेड, मालनपुर भिण्ड

स्वीडन की यह कम्पनी विश्व की सबसे बड़ी पेंट एवं कोटिंग कम्पनी है। यह ग्लोबल फार्च्यून 500 कम्पनी में शामिल है। कम्पनी ने 23 अक्टूबर, 2010 को ट्रायफेक के साथ परियोजना स्थापना के लिये एमओयू किया था। औद्योगिक क्षेत्र मालनपुर, जिला भिण्ड में 55 एकड़ भूमि पर 257 करोड़ के स्थाई पूँजी निवेश से वॉटर बेस्ड एवं अन्य पेंट्स निर्माण संयंत्र की स्थापना की गई। इसमें लगभग 200 व्यक्ति को प्रत्यक्ष रोजगार प्राप्त हुआ है। परियोजना में 30 सितम्बर, 2013 से वाणिज्यिक उत्पादन प्रारंभ हुआ है।

ल्यूगांग इंडिया प्रा. लि., पीथमपुर

ल्यूगांग इंडिया गुआंग्सी ल्यूगांग मशीनरी कम्पनी लिमिटेड चीन की भारत में स्थित अनुषांगिक कम्पनी है। यह विश्व में व्हील लोडर निर्माण की दूसरी बड़ी कम्पनी है। कम्पनी द्वारा एम.पी. ट्राइफेक के साथ एम.ओ.यू. हस्ताक्षरित किया गया है। कम्पनी ने 88 करोड़ के स्थाई पूँजी निवेश से इकाई स्थापित की है, जिसमें 250 व्यक्ति को प्रत्यक्ष रोजगार मिल रहा है। प्रथम चरण में 15 जुलाई 2009 को उत्पादन प्रारंभ हो चुका है। उत्पादन क्षमता 2000 व्हील लोडर प्रतिवर्ष है। परियोजना में 100 प्रतिशत विदेशी पूँजी निवेश किया गया है।

कमिन्स टर्बो टेक्नोलॉजीस इंडिया लि. धार एवं देवास

यह कम्पनी कमिन्स इन्कार्पोरेटेड, यूएसए एवं कमिन्स टर्बो टेक्नोलॉजिस, यू.के. समूह की सदस्य है। कम्पनी का विस्तार 160 देश में है एवं ये ग्लोबल पावर लीडर है। कमिन्स की मध्यप्रदेश में पीथमपुर जिला धार तथा देवास में 3 इकाई हैं, जिनमें 400 करोड़ का पूँजी निवेश किया गया है। कुल 1000 व्यक्ति को प्रत्यक्ष रोजगार प्राप्त हुआ है। इनमें से एक इकाई एस.ई.जेड. पीथमपुर में स्थापित की गई है। कम्पनी की इकाइयों द्वारा पीथमपुर तथा देवास में अनेक सहायक उद्योगों का विकास किया गया है।

व्ही.ई. कमर्शियल व्हीकल्स लि. धार एवं देवास

यह कम्पनी स्वीडन के वाल्वो ग्रुप एवं आयशर मोटर्स का संयुक्त उपक्रम है। मध्यप्रदेश में जिला धार तथा देवास में कुल 6 प्लांट कार्यरत है। इनमें लगभग 2150 करोड़ का निवेश एवं लगभग 8000 व्यक्ति को प्रत्यक्ष रोजगार प्राप्त है। साथ ही लगभग 35 हजार को अप्रत्यक्ष रोजगार उपलब्ध हुआ है। कम्पनी द्वारा राज्य में लगभग 1400 करोड़ की लागत से औद्योगिक क्षेत्र बगरोदा जिला भोपाल में व्यवसायिक वाहन निर्माण की परियोजना प्रस्तावित की गई है। इसमें लगभग 3000 व्यक्ति को प्रत्यक्ष रोजगार प्राप्त होगा। प्रस्तावित परियोजना में उच्चतम मानकों के व्यवसायिक वाहनों का निर्माण होगा और उन्हें स्थानीय एवं निर्यात बाजार में बेचा जायेगा। प्रस्तावित परियोजना को विशेष पेकेज स्वीकृत किया गया है। संयंत्र में 2017 में वाणिज्यिक उत्पादन होना संभावित है।

रियो टिन्टो इंडिया

यू के का रियो टिन्टो विश्व का एक प्रमुख खनन समूह है। समूह खनिज संसाधनों की खोज, खनन तथा प्र-संस्करण के क्षेत्र में कार्यरत है। कम्पनी की हीरा खनन तथा सेम्पल प्रोसेगिंग यूनिट बुंदेर (बक्सवाहा) जिला छतरपुर में स्थित है। कम्पनी द्वारा मध्यप्रदेश शासन के साथ स्टेट सपोर्ट एग्रीमेंट निष्पादित किया गया है। परियोजना में लगभग 3000 करोड़ का निवेश प्रस्तावित है। डायमंड सेम्पल प्रोसेसिंग यूनिट में लगभग 33 करोड़ का पूँजी निवेश किया गया है जिसमें वर्ष 2010 से प्र-संस्करण का कार्य प्रारंभ हो गया है। वर्तमान में 350 व्यक्ति को रोजगार उपलब्ध करवाया गया है।

बुंदेर परियोजना के पूरी तरह से क्रियान्वित होने पर मध्यप्रदेश विश्व के 10 सबसे बड़े हीरा उत्पादन क्षेत्रों में शामिल हो जायेगा।

टेवा फार्मास्युटिकल, मालनपुर-भिण्ड

यह इजरायल की प्रमुख कम्पनी है। यह विश्व में जेनेरिक दवाओं की सबसे बड़ी निर्माता है। टेवा फार्मा द्वारा औद्योगिक क्षेत्र मालनपुर जिला भिण्ड में लगभग 400 करोड़ के स्थाई पूँजी निवेश से अत्याधुनिक फार्मास्युटिकल संयंत्र की स्थापना की गई है। इसमें लगभग 1000 व्यक्ति को प्रत्यक्ष/अप्रत्यक्ष रोजगार उपलब्ध हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here