प्रदेश में 5 वर्ष में प्रमाणित बीज का उत्पादन दोगुना हुआ

भोपाल, अगस्‍त 2013/ प्रदेश में अनाज उत्पादन को बढ़ाने के लिये सहकारी समितियों के माध्यम से प्रमाणित बीज के उत्पादन को बढ़ाया जा रहा है। वर्ष 2012-13 में 11 लाख 50 हजार क्विंटल प्रमाणित बीज का उत्पादन किया गया। प्रदेश में वर्ष 2008-09 में 5 लाख 80 हजार क्विंटल बीज का उत्पादन हुआ।

प्रदेश में फसल उत्पादन बढ़ाने के लिये बीज प्रतिस्थापन की दर को बढ़ाये जाने के लगातार प्रयास किये जा रहे हैं। इसी उद्देश्य से प्रदेश में वर्ष 2002-03 से ग्रामीण-स्तर पर बीज उत्पादक समितियों के गठन का कार्य प्रारंभ किया गया। वर्तमान में 2,316 प्राथमिक बीज उत्पादक समितियाँ पंजीकृत हैं। प्रदेश में मुख्य फसलों सोयाबीन, गेहूँ की बीज प्रतिस्थापन दर 30 प्रतिशत से अधिक हो चुकी है। राज्य में किसानों को उपलब्ध करवाये जा रहे कुल प्रमाणित बीज में से 64 प्रतिशत प्रमाणित बीज सहकारी समिति के माध्यम से उपलब्ध करवाया जा रहा है।

राज्य सहकारी बीज संघ ने इस वर्ष विदिशा, बैतूल, बालाघाट, जबलपुर, खण्डवा, पन्ना, ग्वालियर एवं शहडोल में नये क्षेत्रीय कार्यालय खोले जाने का निर्णय लिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here