प्राइवेट नर्सिंग होम भी जुडेंगे “संतुष्टि योजना” से

भोपाल, जुलाई  2015/ आम आदमी को बेहतर स्वास्थ्य सेवायें मुहैया कराने के मकसद से सरकारी स्वास्थ्य कार्यक्रमों में प्राइवेट नर्सिंग होम की सहभागिता भी बढाई जा रही है। इस कडी में जनसंख्या स्थिरीकरण कोष की “संतुष्टि योजना” में निजी नर्सिंग होम को भागीदार बनाया जायेगा।

सरकार द्वारा राष्ट्रीय परिवार कल्याण कार्यक्रम एवं जननी सुरक्षा कार्यक्रम को और प्रभावी बनाने के मकसद से संतुष्टि योजना शुरू की गई है। जो नर्सिंग होम इस योजना से जुडना चाहते हैं, वे सादे कागज पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के कार्यालय में अपने आवेदन पत्र जमा करा सकते हैं। प्राप्त आवेदनों के आधार पर शासन के प्रावधानों के तहत नर्सिंग होम को इस योजना के लिये मान्यता दी जायेगी। इस संबंध में विस्तृत जानकारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के कार्यालय से प्राप्त की जा सकती है।

मान्यता प्राप्त नर्सिंग होम को 1 से 9 केश पर प्रति केश कुल 3 हजार रूपए की पैकेज राशि दी जायेगी। इसमें से हितग्राही का हिस्सा एक हजार और संबंधित नर्सिंग होम का हिस्सा दो हजार रूपए होगा। इसी प्रकार 10 से ऊपर केश करने वाली निजी स्वास्थ्य संस्था को दो हजार के स्थान पर तीन हजार रूपए प्रति केश के मान से राशि दी जायेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here