फसल बीमा का लाभ सब्जी उत्पादकों को भी मिलेगा

भोपाल, दिसम्बर 2015/ भोपाल जिले में रबी हेतु टमाटर, बैंगन, फूल गोभी, पत्ता गोभी, प्याज, आलू, लहसुन, धनियां, हरी मटर तथा आम की फसल को फसल बीमा योजना के अंतर्गत बीमित किया जा सकता है। रबी की उपरोक्त फसलों के लिये जोखिम अवधि 31 मार्च 2016 है। बीमा करने की अंतिम तिथि ऋणी और अऋणी कृषकों के लिये 31 दिसम्बर 2015 प्रीमियम जमा करने की अंतिम तिथि है। प्रीमियम राशि जमा करने की अंतिम तिथि 15 जनवरी 2016 है । इस संबंध में उप संचालक आत्मा परियोजना और सहायक संचालक उद्यान से प्राप्त की जा सकती है।

उद्यानिकी की मौसम आधारित रबी फसल बीमा योजना सिर्फ अधिसूचित फसलों की ही हो सकेगी ।मौसम आधारित इस बीमा योजना के तहत प्रीमियम की 50 प्रतिशत राशि किसान तथा शेष 50 प्रतिशत राशि केन्द्र तथा राज्य सरकार जमा कराती है। इसके तहत रबी के दौरान लगने वाली अधिसूचित फसलो में मौसम के उतार-चढ़ाव से फसल को किसी भी प्रकार की क्षति होने या उत्पादन पर प्रभाव पड़ने पर पीड़ित किसान को बीमा राशि का भुगतान कम्पनी द्वारा किया जाता है। मौसम आधारित बीमा होने के कारण किसानों को कम या अधिक वर्षा होने पर, ताप में उतार-चढ़ाव पर भी बीमा की राशि का भुगतान निर्धारित अंश अनुसार होने से विशेष लाभ होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here