फीडर सेपरेशन में ढिलाई नहीं चलेगी

भोपाल। ऊर्जा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) राजेन्द्र शुक्ल ने कहा है कि फीडर सेपरेशन के कार्यों के निर्धारित लक्ष्यों की पूर्ति में किसी भी प्रकार की ढिलाई बर्दाश्त नहीं होगी। उन्होंने भौतिक लक्ष्यों की पूर्ति के लिये निर्माण एजेंसियों को निर्धारित अवधि में कार्य पूर्ण करने के निर्देश दिये। श्री शुक्ल गुरुवार को मुरैना में फीडर सेपरेशन, राजीव गाँधी ग्रामीण विद्युतीकरण, आर-एपीडीआरपी आदि योजनाओं के निर्माण कार्यों की समीक्षा कर रहे थे।

श्री शुक्ल ने कहा कि प्रदेश में जनवरी, 2013 से ग्रामीण क्षेत्र के घरेलू उपभोक्ताओं को 24 घंटे तथा सिंचाई के लिये 8 घंटे गुणवत्तापूर्ण विद्युत उपलब्ध करवाना राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। उन्होंने कार्यों की धीमी प्रगति पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि योजनाओं में चल रहे कार्यों में उदासीनता तथा लापरवाही किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं की जायेगी। श्री शुक्ल ने मैदानी अधिकारियों से आव्हान किया कि वे फीडर विभक्तिकरण कार्य को चुनौती के रूप में लेकर शेष कार्य को लक्ष्य अनुसार निर्माण एजेंसियों से पूरा करवायें। उन्होंने कार्यों की प्रगति तथा गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखने को कहा। उन्होंने साप्ताहिक लक्ष्य निर्धारित कर मॉनीटरिंग करने को कहा।

सांसद श्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने निर्माण कार्यों में तेजी लाने और निर्धारित लक्ष्यों का जमीनी स्तर पर क्रियान्वयन सुनिश्चित करने की बात कही।

बैठक में चम्बल संभाग के कमिश्नर श्री ए.के. शिवहरे, प्रबंध संचालक मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कम्पनी श्री नीतेश व्यास, जन-प्रतिनिधि, कलेक्टर सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here