बालिका को अगवा करने पर मिली 10 वर्ष की सजा

भोपाल, अगस्‍त 2013/ राज्य महिला आयोग की पहल पर की गई कार्रवाई में एक नाबालिग बालिका को न्याय मिला है। सीहोर जिले के ग्राम झिल्ला निवासी श्री विष्णु प्रसाद की 13 वर्षीय पुत्री सीता (परिवर्तित नाम) को आरोपी तारू सुतार ने स्कूल जाते समय अगवा कर लिया था। अगवा बालिका के पिता द्वारा महिला आयोग में की गई शिकायत के आधार पर पुलिस अधीक्षक जिला सीहोर ने कार्रवाई की और 26 फरवरी 2013 को आरोपी के विरूद्ध प्रकरण दर्ज करते हुए विभिन्न धाराओं में 4 मई को गिरफ्तार कर सीहोर जिला न्यायालय में चालान पेश किया गया। आरोप सिद्ध होने पर न्यायालय द्वारा तारू सुतार को एक दशक की सजा सुनाई गई है।

विशेष बेंच द्वारा 34 प्रकरण निराकृत

अध्यक्ष मध्यप्रदेश राज्य महिला आयोग श्रीमती उपमा राय और सदस्य श्रीमती स्नेहलता उपाध्याय की भोपाल में आयोजित बेंच में पारिवारिक झगड़े, संपत्ति और अनुकंपा नियुक्ति संबंधी 34 प्रकरण का निराकरण किया गया। बेंच में पुलिस अधीक्षक सीहोर द्वारा 36 प्रकरण के जाँच प्रतिवेदन प्रेषित किये गये थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here