बिजली शिकायतों का तेजी से निराकरण हो

भोपाल, नवम्बर 2015/ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने विद्युत संबंधी शिकायतों का त्वरित निराकरण करने के लिये अधिकारियों को निर्देशित किया है। उन्होंने जले एवं खराब ट्रांसफार्मर को सप्ताहभर में बदलने एवं किसानों को स्थाई पंप कनेक्शन देने की कार्य-योजना बनाने के भी निर्देश दिये हैं।

मुख्यमंत्री ने तीनों विद्युत वितरण कंपनियों के सीएमडी से विद्युत आपूर्ति व्यवस्था की जानकारी लेकर उन्हें व्यवस्था सुधारने के निर्देश दिये, ताकि जनता को कोई परेशानी न हो। इस मौके पर ऊर्जा मंत्री राजेन्द्र शुक्ल, मुख्य सचिव अन्टोनी डिसा, अपर मुख्य सचिव वित्त ए.पी. श्रीवास्तव, प्रमुख सचिव ऊर्जा मनु श्रीवास्तव, मुख्यमंत्री के सचिव विवेक अग्रवाल भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से कहा कि किसानों को गुणवत्तापूर्ण बिजली उपलब्ध करवाना राज्य सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता है। इसके लिये सिंचाई पंपों के फीडर भी अलग किये गये हैं। 50 प्रतिशत की बजाय मात्र 10 प्रतिशत राशि जमा करने पर तत्काल खराब ट्रांसफार्मर बदले जाये। इच्छुक किसानों को अस्थाई पम्प कनेक्शन के लिए मात्र दो माह की राशि जमा करवाई जाये। इसके साथ ही किसानों को स्थाई पम्प कनेक्शन देने की दीर्घकालीन योजना बनायी जाये। इसमें अन्य योजनाओं का कन्वर्जेंस भी किया जाये। इससे सभी किसानों को स्थाई पम्प कनेक्शन मिल सके। उन्होंने सोलर पम्प को भी प्रोत्साहित करने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया।

इस दौरान बताया गया कि चार माह के बजाय दो माह के लिए अस्थाई पम्प कनेक्शन दिये जा रहे हैं। इससे किसानों को कम राशि जमा करना पड़ रही है। प्रदेश में इस वर्ष 84 हजार अस्थाई पम्प कनेक्शन दिये जा चुके हैं, जबकि 20 लाख स्थाई पम्प कनेक्शन है। इसी तरह मात्र 10 प्रतिशत राशि जमा करवाकर 1547 खराब ट्रांसफार्मर बदले गये हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here