बैंकिग सुधार और वेज रिवीजन आवश्यक: शर्मा

भोपाल। जनसंपर्क मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा ने आज यहां ऑल इंडिया पंजाब नेशनल बैंक के 15वें अधिवेशन का शुभारंभ किया। पंजाब नेशनल बैंक के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक श्री के.आर. कामथ विशिष्ट अतिथि थे। ऑल इंडिया बैंक एम्पलाइज एसोसियेशन के राष्ट्रीय महासचिव श्री सी.एच. वेंकटचलम, ऑल इंडिया पंजाब नेशनल बैंक एम्पलाइज फेडरेशन के अध्यक्ष श्री पी.एन. तिवारी और पंजाब नेशनल बैंक के कार्यकारी निदेशक श्री आर.के. सेठी भी उपस्थित थे।

जनसंपर्क मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा ने पंजाब नेशनल बैंक के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक श्री कामथ से बैंक की नई शाखाएं मध्यप्रदेश के ग्रामीण अंचलों में खोलने का आग्रह किया। एम्पलाईज फेडरेशन द्वारा बैंकिंग नीति में सुधार, ऋण देने में लापरवाही को अपराध घोषित करने की मांग का समर्थन करते हुए श्री शर्मा ने कहा कि देश की समृद्धि के लिए इन पर विचार होना जरुरी है। उन्होंने कहा कि महान शहीद लाला लाजपतराय द्वारा स्थापित पंजाब नेशनल बैंक आज देश के प्रमुख बैंकों में शामिल है। पी.एन.बी. की जमा राशि चार लाख करोड़ से अधिक है। बैंक कर्मचारियों की क्षमता और दक्षता तथा संख्या में वृद्धि भी आवश्यक हैं। श्री शर्मा ने फेडरेशन के देश भर से आये प्रतिनिधियों का म.प्र. में स्वागत किया।

ऑल इंडिया बैंक एम्पलाईज एसोसिएशन के महासचिव श्री वेंकटचलम ने बैंक अधिकारियों और कर्मचारियों को मंहगाई इन्डेक्स के अनुरुप प्रतिमाह डी.ए. देने की व्यवस्था करने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि बैंक प्रबंधन और फेडरेशन के बीच वेज रिवीजन, डी.ए. और अन्य मांगों के संबंध में समझौता होना है।

पंजाब नेशनल बैंक के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक श्री कामथ ने फेडरेशन के सदस्यों को अधिवेशन के लिए बधाई दी। श्री कामथ इंडियन बैंक एसोसियेशन के चेयरमेन भी नियुक्त किये गये है। उन्होंने कहा कि बैंक एम्पलाईज और बैंकों के हित में निश्चित ही प्रभावी और त्वरित कदम उठाये जायेंगे।

ऑल इंडिया पंजाब नेशनल बैंक एम्पलाईज फेडरेशन के महासचिव श्री पी.आर. मेहता, पंजाब नेशनल बैंक के महाप्रबंधक श्री एस.के मदान और फेडरेशन के पूरे देश के प्रतिनिधि इस अधिवेशन में हिस्सा ले रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here