ब्रिटिश मंत्री ने लाड़ली लक्ष्मी योजना को सराहा

भोपाल, जनवरी 2015/ ब्रिटेन की गृह (क्राइम प्रिवेंशन) मंत्री फेदरस्टोन ने महिला-बाल विकास मंत्री माया सिंह से मुलाकात के दौरान मध्यप्रदेश में महिलाओं को सशक्त, सक्षम और सुरक्षित बनाने प्रारंभ की गई लाड़ो, शौर्या और लाड़ली लक्ष्मी योजना की सराहना की। उन्होंने कहा कि प्रदेश में महिलाओं के हित में मौजूदा नेतृत्व ने ठोस कदम उठाये हैं।

श्रीमती माया सिंह ने ब्रिटिश मंत्री को बताया कि मध्यप्रदेश पहला राज्य है, जिसने महिलाओं के विरुद्ध होने वाले अत्याचारों को रोकने के लिये उषा किरण योजना लागू की। समाज के सहयोग से अपराध रोकने शौर्या दल बनाये। साथ ही कन्याओं को जन्म से लेकर विवाह तक मदद देने के लिये लाड़ली लक्ष्मी योजना बनायी। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का मानना है, जब तक महिलाओं को समाज में बराबरी का हक और सुरक्षित पर्यावरण नहीं मिलेगा तब तक विकास के सब प्रयास अधूरे ही होंगे। उन्होंने ब्रिटिश मंत्री से अपेक्षा कि वे मध्यप्रदेश में महिलाओं और बच्चों को स्वस्थ और आगे बढ़ने के प्रयासों में सक्रिय मदद करें।

सुश्री फेदरस्टोन ने समाज के विकास में महिलाओं की भागीदारी के महत्व को रेखांकित किया। उन्होंने कहा कि लाड़ली लक्ष्मी योजना के बारे में काफी जानकारी मिली है। सुश्री स्टोन ने प्रदेश के मौजूदा राजनैतिक नेतृत्व की महिलाओं और बच्चों के प्रति संवेदनशीलता को सराहनीय बताया। उन्होंने शौर्या दल योजना के बारे में विस्तार से जानकारी देने और इसमें ब्रिटेन सरकार की ओर से मदद देने की इच्छा व्यक्त की।

बैठक में आयुक्त महिला सशक्तीकरण कल्पना श्रीवास्तव ने प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं और बच्चों के हित में चल रही योजनाओं, कार्यक्रमों और अन्य प्रयासों के बारे में जानकारी दी। प्रमुख सचिव महिला-बाल विकास जे.एन. कंसोटिया, आयुक्त एकीकृत बाल विकास पुष्पलता सिंह, ब्रिटिश मंत्री के साथ आये नाइट स्टीफन डेविड, मोनिका थर्माड और मार्शल एलीऑट आदि उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here