मंत्री गोपाल भार्गव ने किया 20 वृद्धजन का शतायु-सम्मान

भोपाल। सामाजिक न्याय मंत्री गोपाल भार्गव ने कहा है कि मध्यप्रदेश सरकार वृद्धजन के बेहतर जीवन एवं उनकी जरूरतों को सुनिश्चित करने के लिये कृत-संकल्पित है। उन्होंने कहा कि वृद्धजन के कल्याण के लिये प्रदेश में अनेक योजनाएँ संचालित हैं। मंत्री श्री भार्गव आज आसरा वृद्धजन सेवा आश्रम में अंतर्राष्ट्रीय वृद्धजन दिवस के अवसर पर शतायु सम्मान-समारोह में वृद्धजन का सम्मान कर रहे थे।

कार्यक्रम में श्री भार्गव ने 100 वर्ष या उससे अधिक आयु के 20 वृद्धजन को उनके समीप पहुँचकर एक-एक हजार रुपये, शाल एवं श्रीफल भेंट कर शतायु-सम्मान से सम्मानित किया। इस अवसर पर उपस्थित सभी बुजुर्गों को भी अंगवस्त्र भेंटकर सम्मानित किया गया।

श्री गोपाल भार्गव ने मुख्यमंत्री तीर्थ-दर्शन योजना का स्मरण करवाते हुए कहा कि वृद्धजन को रामेश्वरम्, वैष्णोदेवी एवं अजमेर शरीफ की यात्रा की सुखद अनूभूति मिली है। अन्य राज्यों ने भी इस महत्वपूर्ण योजना का अनुसरण करने की इच्छा जाहिर की है।

श्री भार्गव ने कहा कि वृद्धजन को समुचित आदर और सौहार्दपूर्ण वातावरण सुलभ करवाने के उद्देश्य से प्रदेश में 59 वृद्धाश्रम में सामाजिक न्याय विभाग द्वारा सुविधाएँ उपलब्ध करवाई जा रही हैं। उन्होंने बताया कि वृद्धजन के लिये प्रत्येक जिला मुख्यालय पर वृद्धाश्रम खोले जाने की दिशा में सरकार विचार कर रही है। इसके बाद तहसील व विकासखण्ड स्तर पर भी वृद्धाश्रम खोले जायेंगे।

प्रारंभ में श्री भार्गव ने राष्ट्र पिता महात्मा गाँधी के चित्र पर माल्यार्पण किया। श्री भार्गव ने भोपाल में संचालित आसरा वृद्धजन सेवा आश्रम, आनंद धाम वृद्धाश्रम एवं अपना घर वृद्धाश्रम के रहवासियों के लिये आयोजित शतरंज, कैरम तथा चेयर-रेस प्रतियोगिता में प्रथम, द्वितीय और तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया। सामाजिक न्याय आयुक्त श्री व्ही.के. बाथम और जिला कलेक्टर श्री निकुंज श्रीवास्तव ने आयोजन की पृष्ठभूमि पर प्रकाश डाला।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here