मप्र एक्सपोर्टेक में 718 करोड़ से अधिक के निर्यात अनुबंध

भोपाल, मार्च 2013/ भोपाल में चल रहे तीन दिवसीय मध्यप्रदेश एक्सपोर्टेक (बायर-सेलर मीट) के दौरान आज दोपहर तक विदेशी खरीदारों तथा मध्यप्रदेश के बीच 718 करोड़ 61 लाख रुपये से अधिक के 50 निर्यात अनुबंध पर हस्ताक्षर हुए। इनमें सबसे ज्यादा अनुबंध इंजीनियरिंग और मशीन-टूल्स के क्षेत्र में हुए। इस क्षेत्र में कुल 382 करोड़ 81 लाख 32 हजार रुपये के अनुबंध हुए।

लघु उद्योग निगम के अध्यक्ष अखण्ड प्रताप सिंह ने बताया कि फूड एग्रो और हर्बल प्रोडक्ट्स के क्षेत्र में 85 करोड़ 45 लाख 46 हजार रुपये के अनुबंध हुए। पैकेजिंग और प्लास्टिक प्रोडक्ट्स के क्षेत्र में 11 करोड़ 96 लाख 19 हजार 500, पॉवर और एनर्जी उत्पादों के लिये 226 करोड़ 57 लाख 25 हजार, प्रोडक्ट्स और सर्विस टेक्नालॉजी ट्रांसफर के क्षेत्र में 11 करोड़ 55 लाख रुपये तथा टेक्सटाइल्स के क्षेत्र में 2 करोड़ 57 लाख 95 हजार रुपये के निर्यात अनुबंध हुए।

उल्लेखनीय है कि भारत सरकार के उद्योग मंत्रालय और मध्यप्रदेश शासन के संयुक्त प्रयास से प्रदेश के उत्पादों के निर्यात को बढ़ाने के लिये की जा रही इस बॉयर-सेलर मीट को एम.पी. एक्सपोर्टेक के नाम से ब्राण्ड किया गया है। इसी वर्ष जनवरी में चौथी एम.पी. एक्सपोर्टेक का आयोजन किया गया था, जिसमें 629 करोड़ रुपये के निर्यात अनुबंध हुए थे।

भोपाल में चल रहे एम.पी. एक्सपोर्टेक में 77 विदेशी आयातक भाग ले रहे हैं। इसमें ब्राजील, अलजीरिया, अर्जेंटीना, बरकिनाफासो, नामीबिया, स्लोवाकिया, दक्षिण अफ्रीका, ट्यूनीशिया, युगाण्डा, यमन, अमेरिका इत्यादि देशों की प्रमुख रूप से भागीदारी है। साथ ही 20 देश के राजनयिक भी इसमें शिरकत कर रहे हैं।

मध्यप्रदेश के उद्यमियों और विदेशी खरीदारों के बीच व्यवसायिक चर्चाओं का दौर निरंतर जारी है। यह सिलसिला कल रविवार दोपहर तक जारी रहेगा और अनुबंध भी लगातार होते रहेंगे। एक्सपोर्टेक का समापन रविवार को दोपहर एक बजे होगा।

दक्षिण कोरिया से आये प्रतिनिधि मण्डल ने इंडिगो डाइंग के लिये नवीन टेक्नालॉजी देने के संबंध में मध्यप्रदेश लघु उद्योग निगम के साथ ग्वालियर में हुए चौथे एम.पी. एक्सपोर्टेक में अनुबंध किया था। यह प्रतिनिधि-मण्डल भोपाल भी आया है। यह हस्तशिल्प विकास निगम के अधिकारियों के साथ नीमच और जावद में इंडिगो कलस्टर का अवलोकन करेगा। इससे प्रदेश के शिल्पकारों को इंडिगो डाइंग के क्षेत्र में व्यवसाय के अच्छे अवसर प्राप्त होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here