मप्र ग्लोबल टेलेंट पूल बनाने में सबसे आगे

भोपाल, जनवरी 2015/ विभिन्न देश एवं मध्यप्रदेश से बाहर रहने वाले नागरिकों तथा शुभचिंतकों को प्रदेश के विकास और प्रगति की प्रक्रिया में सक्रिय रूप से सहभागी बनाने के लिये राज्य सरकार द्वारा ग्लोबल टेलेंट पूल बनाने की पहल की गई है। इसके एक महत्वपूर्ण प्रयास के रूप में ‘फ्रेण्ड्स ऑफ एमपी” वेबसाइट तैयार की गई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान अपनी अमेरिका यात्रा के दौरान एक फरवरी को न्यूयार्क के सबसे प्रसिद्ध एवरी फिशर हॉल, लिंकन सेंटर प्लॉजा में मध्यप्रदेश के अप्रवासी भारतीयों के सम्मेलन में इस वेबसाइट को लांच करेंगे। यह समागम पूर्वान्ह 10 बजे से दोपहर 1 बजे तक होगा। इसमें मध्यप्रदेश के सभी मित्रों और शुभचिंतकों को आमंत्रित किया गया है।

उल्लेखनीय है कि अक्टूबर में इंदौर में हुई ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने राज्यों को अपने विकास की प्रक्रिया में प्रतिभाशाली लोगों को जोड़ने के लिये ग्लोबल टेलेंट पूल बनाने का सुझाव दिया था। इस दिशा में मध्यप्रदेश ने सबसे पहले पहल की है।

इस वेबसाइट का उद्देश्य ऐसे लोगों को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के विजन के अनुरूप मध्यप्रदेश के विकास की प्रक्रिया में जोड़ना है, जिनके मन में इसके लिये ललक है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मध्यप्रदेश के बाहर रहने वाले प्रदेशवासियों को प्रदेश के विकास और तरक्की में सहभागी बनने का आव्हान किया है।

कौन बन सकता है फ्रेण्ड

हर उम्र और वर्ग के ऐसे लोग मध्यप्रदेश के फ्रेण्ड बन सकते हैं, जो प्रदेश के शुभचिंतक हैं। इनमें भारत के नागरिक, अन्य देशों में रहने वाले भारतीय मूल के लोग, मध्यप्रदेश के शुभचिंतक किसी भी देश के नागरिक, गैर-शासकीय संगठन, सिविल सोसायटी समूह, औद्योगिक संघ और कम्पनियाँ शामिल हैं।

क्या कर सकते हैं

मध्यप्रदेश के सदस्य फ्रेण्ड्स प्रदेश के विकास के संबंध में कोई आयडिया अथवा विजन दे सकते हैं, किसी प्रोजेक्ट को स्पॉन्सर कर सकते हैं, कोई स्‍वैच्छिक काम हाथ में ले सकते हैं और निवेश भी कर सकते हैं। वे सरकार के सामाजिक कल्याण तथा सामुदायिक विकास के लिये किये जाने वाले प्रयासों में अपनी रुचि और विशेषज्ञता के अनुसार योगदान कर सकते हैं।

योगदान किस तरह

मध्यप्रदेश के फ्रेण्ड्स के सहयोग के लिये फिलहाल 5 क्षेत्र निर्धारित किये गये हैं। इनमें शिक्षा, स्वास्थ्य सेवा, कौशल विकास और रोजगार, ग्रामीण विकास और पर्यटन शामिल हैं। आगे चलकर और क्षेत्र भी खोले जायेंगे।

मध्यप्रदेश का फ्रेण्ड बनने के लिये www.friendsofmp.com को विजिट कर रजिस्ट्रेशन करवाया जा सकता है। साथ ही Twitter : friendsOfMP के माध्यम से भी सदस्यता ली जा सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here