मप्र पुलिस वार्षिक क्रीड़ा प्रतियोगिता सम्पन्न

भोपाल, मई 2013/ मध्यप्रदेश पुलिस में खेलों के विकास और खेल प्रतिभाओं को सामने लाने के हरसंभव प्रयास किये जायेंगे। गृह मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने यह बात 52वीं मध्यप्रदेश पुलिस राज्य-स्तरीय वार्षिक क्रीड़ा प्रतियोगिता के समापन अवसर में कही। उन्होंने विजेता खिलाड़ियों और टीम को पुरस्कृत किया।

गृह मंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश के विकास में पुलिस का उल्लेखनीय योगदान है, क्योंकि बिना शांति व्यवस्था विकास संभव नहीं। प्रदेश में शांति व्यवस्था की परम्परा को हर हाल में बनाये रखना है। श्री गुप्ता ने कहा कि आम नागरिकों में सुरक्षा की भावना और अपराधियों में पुलिस का भय होना जरूरी है।

गृह मंत्री ने एथलेटिक्स व्यक्तिगत चेम्पियनशिप ट्राफी में पुरुष वर्ग में विजेता कांस्टेबल रामाधार टैगोर (विशेष सशस्त्र बल दक्षिण जोन भोपाल) और महिला वर्ग में विजेता आरक्षक दीप्ति मिश्रा (मध्य जोन भोपाल) को 10-10 हजार रुपये नगद पुरस्कार देने की घोषणा की। पुलिस महानिदेशक नंदन दुबे ने कहा कि 8 से 13 मई तक चली प्रतियोगिताओं में खिलाड़ियों ने उत्कृष्ट प्रदर्शन किया है।

प्रतियोगिता में सर्वाधिक स्वर्ण पदक 19 विसबल दक्षिण जोन भोपाल को मिले। मध्य जोन भोपाल को 15 एवं पश्चिम जोन इंदौर को 10 स्वर्ण पदक मिले। व्यक्तिगत खेल में विसबल दक्षिण जोन भोपाल को 19, पश्चिम जोन इंदौर और मध्य जोन भोपाल को 10-10 स्वर्ण पदक मिले। हॉकी, फुटबाल, व्हालीबॉल, बास्केटबॉल और हेण्डबॉल में मध्य जोन भोपाल विजेता रहा। कबड्डी में उत्तरी जोन ग्वालियर विजेता रहा। टीम गेम्स चेम्पियनशिप मध्य जोन भोपाल को, एथलेटिक्स में ओवरऑल चेम्पियनशिप विसबल दक्षिण जोन भोपाल और टीम चेम्पियनशिप ट्राफी विसबल दक्षिण जोन भोपाल को मिली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here