मलेरिया से बचाव के पुख्ता प्रबंध हों

भोपाल, अगस्त 2015/ लोक स्वास्थ्य और परिवार कल्याण  मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने मलेरिया की आशंका वाले इलाकों में विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। विभागीय अधिकारियों को रोग की स्थिति पर निरन्तर निगाह रखने को कहा गया है। इसके साथ ही   सभी स्वास्थ्य केन्द्रों  में आवश्यक दवाओं की उपलब्धता के निर्देश भी दिए गए हैं। स्वास्थ्य मंत्री डॉ मिश्रा  ने  कहा कि  जनता को रोगों  से बचाना चिकित्सकों का धर्म है। इस कार्य में लापरवाही बरतने वालों के विरुद्ध कार्यवाही की जाएगी। स्वास्थ्य मंत्री ने डेंगू के मच्छरों  से बचाव के लिए जनता द्वारा जागरूक रहने की प्रशंसा की। मच्छर दानी के इस्तेमाल, पानी से भरे गड्ढों में केरोसिन के छिड़काव  और अन्य उपायों को उपयोग में लाने का आग्रह भी नागरिकों से किया। मंत्री डॉ. मिश्र ने कहा कि जागरूक रहकर बीमारी को आने के पूर्व ही रोकने के उपाय जरूरी हैं।

मंत्री डॉ. मिश्र ने  कहा कि प्रदेश के सभी जिलों  में सरकारी स्तर पर किडनी रोग के उपचार के लिए डायलेसिस सुविधा के विस्तार का कार्य चल रहा है। यह कार्य शीघ्र पूर्ण किया जाए।

स्वास्थ्य मंत्री ने ब्लड बैंक में आवश्यक खून की माँग को पूरा करने के लिए स्वैच्छिक रक्तदाताओं को प्रोत्साहित करने को कहा है।  रक्त रोगों  के साथ ही दुर्घटना में  गंभीर रूप से घायल लोगों  को अक्सर खून की जरूरत होती है। कई बार वांछित ग्रुप का खून न मिलने से रोगी के उपचार  में  समस्या उत्पन्न हो जाती है। ब्लड बैंक में स्वैच्छिक रक्तदाता के रक्त-दान करने से यह समस्या आसानी से  हल हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here