मुख्‍यमंत्री का स्‍वदेश आगमन पर भव्‍य स्‍वागत

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान ने कहा है कि युवकों को रचनात्मक कार्यों में लगाने के लिये प्रदेश में विवेकानंद युवा केन्द्र खोले जायेंगे। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में लघु उद्योगों को बढ़ावा देने के लिये विशाल सम्मेलन होगा। गरीब को रहने के लिये आवासीय भूमि के पट्टे भी मिलेंगे। इस अभियान का प्रारंभ आदिवासी बाहुल्य इलाकों से होगा। श्री चौहान ने उनके स्वागत के लिये स्टेट हैंगर पर आये कार्यकर्ताओं और नागरिकों को संबोधित करते हुये यह बात कही। इस अवसर पर मुख्यमंत्री श्री चौहान का पुष्प मालाओं और पुष्प गुच्छों से भव्य स्वागत हुआ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश की सरकार गरीबों के साथ है। प्रदेश के विकास की धूम देश में ही नहीं विदेशों में भी है। संयुक्त राज्य अमेरिका में सभी जगहों पर मध्यप्रदेश की कृषि विकास दर, आर्थिक विकास दर, महिला सशक्तिकरण के कार्यों, लाड़ली लक्ष्मी, तीर्थ दर्शन और लोक सेवा प्रदाय योजनाओं की व्यापक सराहना हो रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की सिंचाई तथा पेयजल योजनाओं और विकास कार्यों में विश्व बैंक सहयोग की सकारात्मक पहल की है। उन्होंने बताया कि अमेरिका वासियों को प्रदेश के विकास की कहानी सुनाने के साथ ही उन्होंने विकास के प्रति संतुलित दृष्टिकोण रखने के लिये उनको आगाह भी किया। उत्पादन उतना ही होना चाहिये जितनी आवश्यकता हो। इसी प्रकार प्राकृतिक संसाधनों का संपूर्ण विश्व के परिदृश्य में दोहन होना चाहिये। उन्होंने कहा कि भारत विश्व का अद्भुत देश है। विश्व को शांति का दिग्दर्शन हमारा देश ही करेगा। यह बात उन्होंने अमेरिका में सभी को बतायी है।

श्री चौहान ने कहा कि देश के विकास में युवाओं का सक्रिय सहयोग और भागीदारी रहे इसके लिये ग्रामीण लघु उद्योगों की स्थापना के लिये युवाओं को बैंकों के माध्यम से ऋण दिलाये जायेंगे। ऋण की गारंटी प्रदेश सरकार देगी। इसी प्रकार विभिन्न स्तरों पर विवेकानंद युवा केन्द्रों का गठन किया जायेगा। यह केन्द्र युवाओं को रचनात्मक कार्यों के लिये प्रेरित करेंगे। युवाओं का पानी बचाने, पेड़ लगाने आदि सकारात्मक कार्यों में सहयोग लिया जायेगा।

उन्होंने कहा कि संयुक्त राज्य अमेरिका की यात्रा के दौरान अप्रवासी भारतीयों का भारतीय माटी और संस्कृति के प्रति स्नेह और लगाव अद्भुत है। उनमें प्रदेश के विकास और कल्याण के कार्यों में सहयोग की ललक दिखायी दी। उन्होने कहा कि प्रदेश के विकास की वर्तमान तीव्र गति बनी रही तो अगले पाँच वर्षों में मध्यप्रदेश देश का ही नहीं विश्व का अग्रणी प्रगतिशील राज्य बन जायेगा।

इस अवसर पर वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री कैलाश विजयवर्गीय, परिवहन एवं जेल मंत्री जगदीश देवडा, उच्च शिक्षा एवं संस्कृति मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा, किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री रामकृष्ण कुसमरिया, राजस्व मंत्री करणसिंह वर्मा, गृह मंत्री उमाशंकर गुप्ता, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती रंजना बघेल, ऊर्जा एवं खनिज साधन मंत्री राजेन्द्र शुक्ल, परिवहन, जेल राज्यमंत्री नारायण सिंह कुशवाह, किसान कल्याण तथा कृषि राज्यमंत्री बृजेन्द्र प्रताप सिंह, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण राज्य मंत्री महेन्द्र हार्डिया, प्रदेश अध्यक्ष भाजपा एवं सांसद प्रभात झा, महापौर श्रीमती कृष्णा गौर, मुख्य सचिव आर. परशुराम, निगम मण्डल के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष एवं बड़ी संख्या में महिला पुरूष कार्यकर्ता, नेता अधिकारीगण उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here