रतलाम और देवास में शांतिपूर्ण मतदान की तैयारियाँ

भोपाल, नवम्बर 2015/ मध्यप्रदेश की रतलाम लोकसभा और देवास विधानसभा उप-चुनाव को स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण तरीके से करवाने के लिये सभी तैयारियाँ की जा चुकी हैं। रतलाम संसदीय क्षेत्र के 3 जिले में 2200 मतदान-केन्द्र हैं। इस क्षेत्र में 17 लाख 42 हजार 628 मतदाता हैं। इनमें पुरुष 8 लाख 79 हजार 508, महिला 8 लाख 63 हजार 88 तथा थर्ड जेण्डर मतदाता 32 हैं।

मतदान-केन्द्रों में 379 मतदान-केन्द्र क्रिटिकल श्रेणी के माने गये हैं। आदर्श मतदान-केन्द्र के रूप में 35 मतदान-केन्द्र को तैयार किया जा रहा है। निर्वाचन क्षेत्र के 6 मतदान केन्द्र पर वेबकास्टिंग की जायेगी। उप चुनाव के लिये 222 सेक्टर तथा 368 रूट बनाये गये हैं। चुनाव संचालन के लिये 813 वाहन की व्यवस्था की गयी है। चुनाव की सामग्री 3 स्थान अलीराजपुर, झाबुआ और रतलाम से वितरित की जायेगी। मतगणना 3 स्थान जिला मुख्यालय रतलाम, झाबुआ और अलीराजपुर में होगी। जिला निर्वाचन अधिकारियों द्वारा डाक मत-पत्र एवं ईव्हीएम में लगने वाले मत-पत्र प्रिन्ट करवाकर स्ट्रांग-रूम में रखे जा चुके हैं। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी तथा 368 पुलिस अधिकारी द्वारा क्षेत्र में सतत भ्रमण, मॉनीटरिंग एवं निगरानी की जा रही है। मतदान कर्मियों एवं ईव्हीएम का 14 नवम्बर तक रेण्डमाइजेशन कर लिया जायेगा। गणना स्थलों के प्रस्ताव जिलों से बुलवाकर चुनाव आयोग से अनुमोदन के लिये भेजने की कार्यवाही की जा रही है। सेक्टर मजिस्ट्रेट के प्रस्ताव को भी जिलों से बुलवाकर विधि विभाग से अनुमोदन करवाया जा रहा है।

अवैध शराब की बिक्री एवं वितरण पर सतत निगरानी रखी जा रही है। इसके लिये जिलों में उड़नदस्ते बनाये गये हैं, जो सतत भ्रमण कर रहे हैं। अलीराजपुर, झाबुआ, रतलाम एवं देवास जिलों में आबकारी अधिनियम के अंतर्गत संवेदनशील क्षेत्रों में आबकारी दल गठित किये हैं। इसी प्रकार कानून व्यवस्था बनाये रखने एवं अवैध सामग्री के वितरण की रोकथाम के लिये फ्लाइंग स्क्वाड लगातार भ्रमण कर रही हैं।

अब तक निर्वाचन क्षेत्रों में 13 हजार 798 शस्त्र को जमा तथा 589 शस्त्र को जप्त किया गया। इसी तरह 5851 व्यक्ति के विरुद्ध प्रतिबंधात्मक कार्यवाही दण्ड प्रक्रिया संहिता के तहत की गयी। जिला प्रशासन द्वारा 6439 व्यक्ति से शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिये बन्ध-पत्र भरवाये गये। वहीं 1368 अपराधियों के वारंट तामील करवाये गये। सीआरपीसी एक्ट के तहत 337 व्यक्ति के विरुद्ध कार्रवाई की गयी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here