राघवजी पर भारी व्यापारियों का वजन,शकर, कपड़ा और बिजली से वैट वापस

भोपाल, एजेंसीः  राज्य सरकार ने शक्कर, कपड़ा और बिजली पर प्रस्तावित पांच फीसदी वैट को वापस ले लिया है। वित्त मंत्री राघवजी ने बुधवार को विधानसभा में वैट को वापस लेने के फैसले का एलान किया। सरकार के इस फैसले का कारोबारी काफी विरोध कर रहे थे।

 

वित्त मंत्री राघवजी ने सदन में मप्र वैट (संशोधन) विधेयक पेश करके वैट को वापस लेने की घोषणा की। इसके पहले वित्तमंत्री ने 28 फरवरी को पेश बजट में बजट  शक्कर, कपड़ा और बिजली पर वैट लगाने का प्रस्ताव रखा था।

 

उस समय वित्तमंत्री को शायद यह उम्मीद नहीं थी कि यह मामला इतना तूल पकड़ेगा। व्यापारिक संगठन ही केवल इसका विरोध नहीं कर रहे थे बल्कि बीजेपी के कुछ विधायक भी इस विरोध को हवा दे रहे थे। चौतरफा दबाव के बाद राघवजी को मजबूर होकर पीछे हटना पड़ा।

 

वित्त मंत्री ने कहा कि वैट वापस लेने से सरकारी खजाने को ख़ासा नुकसान होगा। सरकार को वैट के नए प्रावधानों के जरिए 250 करोड़ रूपए के राजस्व मिलने की उम्मीद थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here