राजस्व प्रकरण निराकरण के लिये ग्रामीण क्षेत्रों में होंगे शिविर

भोपाल। मुख्य सचिव आर. परशुराम ने कहा है कि राजस्व प्रकरणों के निराकरण के लिये ग्रामीण क्षेत्रों में शिविर लगाये जायेंगे। इनमें कलेक्टर और उच्च अधिकारी मौके पर नागरिकों की समस्याओं का निराकरण करेंगे।

वे बालाघाट जिले के विकास खण्ड बैहर के ग्राम आमगांव में ग्रामीणों से रूबरू चर्चा कर रहे थे। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव पंचायत एवं ग्रामीण विकास एवं विकास आयुक्त श्रीमती अरुणा शर्मा, प्रमुख सचिव वन श्री देवराज बिरदी, संभागायुक्त जबलपुर सम्भाग श्री दीपक खण्डेकर तथा कलेक्टर श्री विवेक पोरवाल मौजूद थे।

मुख्य सचिव ने कहा कि दूरस्थ अंचलों तक शासन की योजनाओं का लाभ पहुँचाने तथा योजना राशि हितग्राही को त्वरित रूप से उपलब्ध करवाने के लिये ई-भुगतान व्यवस्था का विस्तार किया जा रहा है। अगले दो वर्ष में इसे हर ग्राम पंचायत तक पहुँचा दिया जायेगा। बेटी बचाओ अभियान मध्यप्रदेश सरकार और आमजन का महत्वपूर्ण अभियान है। इसे लगातार जारी रखा जायेगा और समाज में बेटियों के प्रति सम्मान की भावना बढ़ायी जायेगी। मुख्यमंत्री को बच्चों के स्वास्थ्य की बहुत चिन्ता है। उनका संकल्प है कि प्रत्येक बच्चा सबल बने। कुपोषण पर विजय पाने के लिये शासकीय अमला समाज के प्रबुद्ध नागरिकों के साथ मिलकर कार्य करे। बच्चों को नियमित शाला और आँगनवाड़ी भेजा जाये।

राज्य सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों में गुणवत्तायुक्त स्वास्थ्य सुविधाओं के विस्तार के लिये ठोस कदम उठाये हैं। यह तय किया गया है कि शासन की 108 एम्बुलेन्स सेवा का आवश्यकतानुसार विस्तार किया जायेगा। ग्रामीण क्षेत्रों में आरोग्य केन्द्र खोले जा रहे हैं। आशा आदि कार्यकर्ताओं को स्वास्थ्य संबंधी ट्रेनिंग दी जा रही है। मुख्यमंत्री नल-जल योजना में 3-4 वर्ष में सभी ग्राम और घरों में नल जल पहुँचाने के लक्ष्य को हासिल करने के लिये तेजी से कार्य किया जा रहा है।

गुणवत्तायुक्त शिक्षा के विस्तार के लिये शालाओं में शिक्षकों की कमी पूरी की जा रही है। करीब 80 हजार शिक्षक की भर्ती की जायेगी। विद्युत लाइनों का इतना अधिक विस्तार विगत 60 वर्ष में कभी नहीं हुआ।

बालाघाट जिले में उन्नत कृषि तकनीक को बढ़ावा देकर धान उत्पादन एवं उत्पादकता को बढ़ाया जा रहा है। धान खरीदी और भंडारण के विस्तार के लिये शासन द्वारा पूरे इंतजाम सुनिश्चित किये जा रहे हैं। मुख्य सचिव ने आँगनवाड़ी कार्यकर्ता, कुरैशा बी. को उनके उत्कृष्ट कार्य के लिए सम्मानित किया। कुरैशा बी ने अपने क्षेत्रों में आँगनवाड़ी केन्द्रों का संचालन बेहतर ढंग से किया है। उन्होंने कुपोषित बच्चों एवं अति कुपोषित बच्चों का समुचित इलाज करवाया है।

आमगाँव की गलियों में पैदल घूमे मुख्य सचिव

मुख्य सचिव ग्राम आमगाँव की गलियों में घूमे। उन्होंने पंच-परमेश्वर योजना में निर्मित सी.सी.रोड की गुणवत्ता की तारीफ की।आँगनवाड़ी केन्द्र का निरीक्षण किया। बच्चों की संख्या, पोषण की स्थिति, अनौपचारिक शिक्षा आदि की जानकारी ली। ग्राम पंचायत देवगांव अन्तर्गत जयाटोला की आँगनवाड़ी केन्द्र का अवलोकन किया। आँगनवाड़ी केन्द्र के भवन की गुणवत्ता की तारीफ की। बच्चे निगरानी चार्ट का अवलोकन किया तथा देखा कि इसमें मार्किंग कैसे की जा रही है। उन्होंने बच्चों से आत्मीयता से बातचीत की। मुख्य सचिव और अपर मुख्य सचिव ने किचन शेड में जाकर पकाये जा रहे भोजन का अवलोकन किया तथा भोजन ग्रहण कर गुणवत्ता की जाँच की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here