राष्ट्रीय बाल-रंग में मिलेगी संस्कृति की झलक

भोपाल, जनवरी 2015/ भोपाल के इंदिरा गाँधी मानव संग्रहालय का मुक्ताकाश 10 और 11 जनवरी को राष्ट्रीय बाल-रंग में शामिल होने वाले छात्र-छात्राओं के नाम रहेगा। इन दो दिन में 21 राज्य के प्रतिभाशाली छात्र-छात्राएँ अपनी कला और प्रतिभा को प्रदर्शित करेंगे। शुभारंभ 10 जनवरी को सुबह 10.30 बजे स्कूल शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री एस.आर. मोहंती करेंगे।

बाल-रंग में दोपहर 12 बजे से राष्ट्रीय लोक-नृत्य प्रतियोगिता होगी, जिसमें मध्यप्रदेश सहित हिमाचल प्रदेश, गुजरात, चण्डीगढ़, हरियाणा, बिहार, जम्मू-कश्मीर, पुडुचेरी, अरुणाचल प्रदेश, मिजोरम, नागालेण्ड, असम, केरल, कर्नाटक, तमिलनाडु, पंजाब, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, दमन-दीव, मणिपुर एवं मेघालय प्रदेश के दल भाग लेंगे। संग्रहालय के मरुगाँव में सुबह 10 बजे से जंगल केम्प, एडवेंचर, रिवर क्रासिंग, मंकी ब्रिज, कमांडो वाचिंग टॉवर ब्रिज, रॉक क्लाइविंग, वॉल रेपलिंग, टेन्ट पिचिंग गतिविधियाँ होंगी। इसी के साथ बाल-गतिविधि एवं प्रदर्शनी का आयोजन भी होगा, जो बाल-पत्र, बाल-न्यायालय, बाल-पुलिस, बाल-संसद, बाल-संरक्षण आयोग, बाल-सभा, आदर्श ग्राम, स्मार्ट-सिटी, बाल-पुस्तकालय, बाल विज्ञान केन्द्र, बाल रंगमंच, सांस्कृतिक क्लब, स्वच्छ मध्यप्रदेश-विकसित मध्यप्रदेश, स्वस्थ भारत, बाल सिनेमा, स्पोट्स क्लब, कृषि एवं उद्यानिकी, आपदा प्रबंधन, कौशल विकास और बाल यातायात गतिविधियों पर आधारित होगी।

बाल-रंग में व्यावसायिक शिक्षा एवं विद्यार्थियों द्वारा निर्मित क्राफ्ट प्रदर्शनी एवं लघु भारत प्रदर्शनी का आयोजन भी होगा। लघु भारत प्रदर्शनी गौरवशाली भारत की थीम पर होगी। बाल-रंग का समापन एवं पुरस्कार वितरण तथा सर्वश्रेष्ठ सामूहिक लोक-नृत्यों की प्रस्तुति 11 जनवरी को दोपहर 2 बजे होगी। समापन के मुख्य अतिथि पुलिस महानिदेशक सुरेन्द्र सिंह होंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here