वनवासी बने ‘जंगल गाइड’, वन मंत्री ने दिए प्रमाण पत्र

भोपाल, अगस्‍त 2013/ वन मंत्री सरताज सिंह ने मध्यप्रदेश ईको टूरिज्म बोर्ड द्वारा पर्यटकों को जंगल का सम्पूर्ण लुत्फ और जानकारी दिलाने के उद्देश्य से प्रशिक्षित किये गये 30 गाइड को प्रमाण-पत्र प्रदान दिये। ‘हुनर से रोजगार’ योजना में 3 माह का प्रशिक्षण प्राप्त ये युवक ईको टूरिज्म गाइड बनकर हर माह 3-4 हजार रुपये की अतिरिक्त आय भी जुटा सकेंगे और खुद के घर पर रहने के कारण अपनी खेती-बाड़ी आदि घरेलू धन्धों को भी जारी रख सकेंगे।

वन मंत्री ने कहा कि वन पर्यटकों को वन से जुड़े गाइड ही सर्वोत्तम सेवा प्रदान कर सकते हैं। ईको पर्यटन बोर्ड ने प्रदेश के 20 महत्वपूर्ण ईको पर्यटन-स्थल के लिए 60 युवक का चयन क्षेत्रीय वन समितियों के माध्यम से किया है। सात जिलों के इन गाइड को वन, वन्य-प्राणियों, क्षेत्र की सम्पूर्ण जानकारी के साथ कामचलाऊ अंग्रेजी और होटल मैनेजमेन्ट का भी प्रशिक्षण दिया गया है। गाइड को ईको पर्यटन केन्द्रों – भीलटदेव, समर्धा, कठोतिया, कोलार, पायली, दौलतपुर, कुकरू, रूखड़, पातालकोट आदि पर रोजगार उपलब्ध करवाने के प्रयास किये जायेंगे। कठोतिया, समर्धा और रूखड़ में पूर्व से प्रशिक्षित युवकों को अतिरिक्त आमदनी प्राप्त हो रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here