व्यक्तित्व विकास प्रकोष्ठ से ढाई लाख लाभान्वित

भोपाल, अगस्त,2015/ उच्च एवं तकनीकी शिक्षा मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने कहा है कि व्यक्तित्व विकास प्रकोष्ठ के जरिये ढाई लाख विद्यार्थियों को लाभान्वित किया गया है। श्री गुप्ता शासकीय सरोजनी नायडू कन्या महाविद्यालय में प्रकोष्ठ की विशेष व्याख्यान माला में बोल रहे थे। उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि व्यक्तित्व विकास प्रकोष्ठ का बजट जीरो है लेकिन विशेष प्रयास से इसके जरिये हुए बौद्धिक कार्यक्रमों से प्रदेश के विद्यार्थी न केवल लाभान्वित हुए बल्कि उन्हें जीवन जीने की नई दिशा दृष्टि भी मिली है।

व्याख्यान-माला में आज  ‘हम करें राष्ट्र निर्माण” पर राष्ट्र-कथा मर्मज्ञ अजय भाईजी ने विशेष व्याख्यान दिया। राष्ट्र-कथा मर्मज्ञ अजय भाईजी ने कहा कि हम सब भारत माता के पुत्र हैं, इसलिये रिश्ते में भाई-भाई हैं। उन्होंने कहा कि सफलता के लिये जरूरी है कि संकल्प को विकल्प नहीं बनायें। हम सब अपनी तीन-चार पीढ़ी से अधिक नाते-रिश्तेदारों के बारे में नहीं जानते हैं, लेकिन महापुरुषों, शहीदों और वीरों के नाम सबको याद रहते हैं। महापुरुष और वीरों की मृत्यु के बाद उनका चरित्र जिंदा रहता है। अजय भाईजी ने गंगा नदी की महिमा, सेलुलर जेल, महारानी लक्ष्मीबाई, चन्द्रशेखर आजाद, भगत सिंह,अशफाकउल्ला खान, राम प्रसाद बिस्मिल, सरदार ऊधम सिंह, खुदीराम बोस सहित अनेक वीर सपूतों के बारे में बताया। उन्होंने देशभक्ति गीतों के माध्यम से छात्राओं को देश-प्रेम के प्रति उद्वेलित किया।

संचालक व्यक्तित्व विकास प्रकोष्ठ श्री एस.बी. गोस्वामी ने कहा कि मैं से हम, हम से हमारे और घर से देश की यात्रा में निकलें। उन्होंने प्रकोष्ठ की वार्षिक गतिविधियों की जानकारी दी। इस मौके पर प्राचार्य डॉ. वंदना अग्निहोत्री भी उपस्थित थीं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here