शहरी क्षेत्र के 9,800 व्यक्तियों को स्व-रोजगार सहायता

भोपाल, मार्च 2013/ प्रदेश में स्वर्ण जयंती शहरी रोजगार योजना में इस वर्ष 9,878 जरूरतमंद को स्वयं का रोजगार प्रारंभ करने के लिये आर्थिक मदद उपलब्ध करवाई गई है। नगरीय प्रशासन विकास विभाग द्वारा संचालित इस योजना में शहर में रहने वाले गरीब व्यक्तियों को स्व-रोजगार दिलाये जाने के उद्देश्य से 2 लाख तक की आर्थिक सहायता बैंक ऋण के रूप में उपलब्ध करवाई जाती है। इसमें 50 हजार की आर्थिक सहायता अनुदान के रूप में उपलब्ध करवाये जाने का प्रावधान है।

शहरी गरीबों में रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिये कौशल उन्नयन एवं प्रशिक्षण का भी कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है। इस वर्ष विभिन्न ट्रेड के अंतर्गत 26 हजार 200 से अधिक व्यक्ति को स्व-रोजगार का प्रशिक्षण दिलाया गया है। प्रशिक्षण के दौरान चयनित हितग्राहियों को टूल-किट्स एवं स्टाइफण्ड भी उपलब्ध करवाया गया है। इन योजना के क्रियान्वयन के लिये नगरीय निकाय स्तर पर नगर शहरी गरीबी उपशमन प्रकोष्ठ का गठन भी किया गया है। योजना के क्रियान्वयन में जिला शहरी विकास अभिकरण के अधिकारी भी मदद कर रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here