शिक्षक के सम्मान से ही होगी आदर्श समाज की स्थापना

भोपाल, सितम्बर 2014/ पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री गोपाल भार्गव ने कहा है कि शिक्षक के सम्मान से ही आदर्श समाज की स्थापना की जा सकती है। उन्होंने भारत को दुनिया में श्रेष्ठ स्थान दिलाने के लिये शिक्षकों से समर्पण की भावना से अध्यापन किये जाने का भी आग्रह किया। श्री भार्गव बैरागढ़ के संत हिरदाराम गर्ल्स कॉलेज में शिक्षक सम्मान समारोह को संबोधित कर रहे थे। इस मौके पर स्कूल शिक्षा मंत्री पारस चन्द्र जैन, भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष एवं सांसद नंदकुमार सिंह चौहान भी मौजूद थे। शिक्षक सम्मान समारोह में हुजूर तहसील के शिक्षकों का सम्मान किया गया। सम्मान स्वरूप प्रशस्ति-पत्र एवं शॉल भेंट किया गया।

मंत्री श्री भार्गव ने कहा कि शिक्षक का जीवन तपस्या के समान है। उनकी तपस्या से भावी पीढ़ी तैयार होती है। जिस तरह मोमबत्ती पिघलकर अंधकार को दूर करती है, उसी तरह शिक्षक त्याग करके समाज में रोशनी फैलाने का काम कर रहे हैं। शिक्षकों के इस त्याग के कारण समाज में उन्हें देवतुल्य स्थान दिया गया है।

स्कूल शिक्षा मंत्री पारस चन्द्र जैन ने कहा कि प्रदेश सरकार ने शिक्षकों के कल्याण के लिये अनेक फैसले लिये हैं। शिक्षक विद्यार्थियों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा दें। श्री जैन ने हुजूर विधानसभा क्षेत्र के विधायक रामेश्वर शर्मा के प्रयासों की भी प्रशंसा की। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष नंद कुमार सिंह चौहान ने कहा कि भारतीय संस्कृति में शिक्षकों को श्रेष्ठ स्थान दिया गया है। शिक्षक के सम्मान से ही भारत को विश्व-गुरु का दर्जा दिलाया जा सकता है। कार्यक्रम को विधायक रामेश्वर शर्मा और समाज-सेवी सिद्धभाऊ जी ने भी संबोधित किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here