शिविरों में 40 हजार से अधिक किसान शामिल हुए

भोपाल, सितम्बर 2014/ प्रदेश के किसानों को कृषि की नई तकनीकों से परिचित करवाकर कृषि उत्पादन और उत्पादकता बढ़ाने के उद्देश्य से 25 सितम्बर से शुरू हुए कृषि महोत्सव के दूसरे दिन 26 सितम्बर को कृषि क्रांति रथों ने 781 गाँव का भ्रमण किया। रथों के माध्यम से किसानों को नवीनतम कृषि तकनीकों के बारे में कृषि विशेषज्ञों और अन्य लोगों ने जानकारी दी। इस दिन ग्राम स्तरीय कृषक शिविरों में 40 हजार से अधिक किसान ने भाग लिया।

महोत्सव के दूसरे दिन सूरजधारा योजना में 1368, अन्नपूर्णा योजना में 795 और बीज ग्राम योजना में 531 कृषि किट वितरित किये गये। साथ ही मिट्टी के 4542 नमूने लिये गये। इसी दिन मुख्यमंत्री खेत तीर्थ योजना में 874 भ्रमण दल गठित किये गये।

महोत्सव के दौरान राजस्व अभिलेखों के वितरण का काम भी किया जा रहा है। दूसरे दिन 396 अभिलेख वितरित किये गये। पशु चिकित्सा शिविरों में 26 हजार से अधिक पशु का इलाज किया, 1176 लंबित नामांतरण और 30 सीमांकन के प्रकरण का निराकरण किया गया। किसान क्रेडिट कार्ड और ऋण पुस्तिकाओं का वितरण भी किया गया। मेरा खेत मेरी माटी योजना के कार्यों का 203 स्थान पर शुभारंभ किया गया।

जहाँ-जहाँ कृषि क्रांति रथ जाते हैं, वहाँ सांस्कृतिक कार्यक्रम भी किये जाते हैं। महोत्सव के दूसरे दिन 170 सांस्कृतिक कार्यक्रम किये गये।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here