शौचालय बनाने में मप्र अन्य राज्यों से बहुत आगे

भोपाल, अगस्त 2015/ विद्यालयों में विद्यार्थियों के लिए शौचालय निर्माण के अभियान को क्रियान्वित करने में मध्यप्रदेश की प्रगति की केंद्र सरकार ने सराहना की। केबिनेट सचिव पी. के. सिन्हा ने वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से राज्यों के मुख्य सचिवों से चर्चा कर शौचालय निर्माण की प्रगति की जानकारी ली।

मुख्य सचिव अन्टोनी डिसा ने बताया कि इस वर्ष विद्यालयों में भी प्रवेश ज्यादा होने के फलस्वरुप राज्य ने अतिरिक्त शौचालय बनवाकर विद्यार्थियों को आवश्यकतानुसार सुविधा दी है। देश के बड़े राज्यों में मध्यप्रदेश की प्रगति अपेक्षाकृत बेहतर है। वर्ष 2013-14 के साथ मध्यप्रदेश में वर्ष 2014 -15 के लिए निर्धारित कार्य सिर्फ तीन माह में पूरा हो गया है।

मुख्य सचिव ने वीडियो कान्फ्रेंस में केबिनेट सचिव को बताया कि भारत सरकार द्वारा राज्य को दिए गए 33 हजार 202 शौचालय निर्माण के लक्ष्य के मुकाबले अब तक 32 हजार 654 शौचालय बन गये हैं। राज्य के विद्यालयों में अभी लगभग 500 शौचालय का निर्माण शेष है। इनका निर्माण अगले तीन दिन में हो जाएगा। केबिनेट सचिव ने मध्यप्रदेश में हुए श्रेष्ठ कार्य के लिए बधाई दी। इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव स्कूल शिक्षा श्री एस.आर. मोहंती उपस्थित थे।

विशेष उल्लेखनीय बात यह है कि मध्यप्रदेश में बने सभी शौचालय स्थायी शौचालय हैं। राज्य में लगभग 25 हजार अतिरिक्त शौचालय भी बनाए गए हैं। ये अतिरिक्त शौचालय जून माह में ही बनकर तैयार हो गए थे। इस प्रकार अब तक कुल 58 हजार शौचालय राज्य के विद्यालयों में बन गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here