श्योपुर के नेत्र रोगियों की हालत ठीक होने का दावा

भोपाल, जनवरी 2016/ कुछ माह पहले बड़वानी में आंखों के ऑपरेशन के दौरान चालीस से अधिक लोगों की आंखों की रोशनी चले जाने के भयावह कांड के बाद श्‍योपुर जिले से आई ऐसी ही एक खबर ने सरकार की नींद उड़ा दी है।

श्योपुर में भी मोतियाबिंद के ऑपरेशन हुए थे और उसके बाद कुछ नेत्र रोगियों द्वारा कम दिखाई देने की शिकायत की थी। इस पर चिकित्सकों द्वारा परीक्षण किया गया। सभी रोगियों से उँगलियों की गिनती करवाई गई। मरीजों ने फिंगर काउंट कर सही जवाब दिये। मेडिकल कॉलेज ग्वालियर के नेत्र रोग विशेषज्ञ भी श्योपुर पहुँचे हैं और मरीजों का नेत्र परीक्षण कर रहे हैं। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी श्योपुर डॉ. प्रदीप मिश्रा ने बताया कि 27 नवंबर 2015 को 66 मरीज के मोतियाबिंद ऑपरेशन नेत्र चिकित्सक डॉ. राकेश गुप्ता और डॉ. निर्मला छत्रशाली द्वारा किए गए हैं। रोगियों को कुछ कम दिखाई देने के अलावा और कोई स्वास्थ्य समस्या नहीं पाई गई है। डॉ. मिश्रा ने बताया कि सभी रोगियों के पूर्ण स्वस्थ होने की आशा है।

इस बीच सरकार ने दावा किया है कि श्योपुर में नेत्र रोगियों का परीक्षण चल रहा है और सभी रोगी स्वस्थ हैं। परीक्षण में कोई नेत्र इन्फेक्शन नहीं पाया गया है। संयुक्त संचालक स्वास्थ्य डॉ. अर्चना ने बताया कि ग्वालियर मेडिकल कॉलेज के नेत्र रोग विशेषज्ञ सहित भोपाल से डॉ. हेमन्त सिन्हा और शिवपुरी के नेत्र रोग चिकित्सक ने आज 28 रोगी का परीक्षण किया। मरीज श्योपुर के आसपास से ग्रामीण क्षेत्र के हैं। इसी हफ्ते इन्हें चश्मे दिए जायेंगे। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्रीमती गौरी सिंह, आयुक्त स्वास्थ्य पंकज अग्रवाल और कलेक्टर ने भी रोगियों के संबंध में जानकारी प्राप्त की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here