सीएम की घोषणा पर अमल, आदिवासी अंचल को मिलेगी करोड़ों की सौगात

मुख्य मंत्री शिवराजसिंह चौहान ने वनवासी यात्रा में जनाकांक्षाओं को दृष्टिगत रखते हुए विविध विकसित कार्यो की घोषणा की गई थी। इन घोषणाओं पर जिले में धूलकोट और बिस्टान ग्राम को करोड़ों की विकासीय सौगातें मिली है। आज यह विकासीय आव्हान मूर्त रूप लेने जा रहा है। यह बात स्कूल शिक्षा तथा जिले की प्रभारी मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनीस ने स्वर्णिम मध्यप्रदेश के संकल्प को दोहराते हुए कहीं। मुख्य अतिथि धूलकोट में एक करोड़ 35 लाख 48 हजार रूपये की लागत से  नाले पर उच्च स्तरीय पुल निर्माण कार्य का भूमि पूजन किया। इसके तत्पश्चात उन्होंने  यहां 83 लाख रूपये से नवनिर्मित कस्तूरबा गॉधी विघालय सह कन्या छात्रावास का लोकार्पण भी किया।  मुख्य अतिथि ने इस क्रम में दो लाख 98 हजार रूपये से निर्मित होने वाले माडल स्कूल और 71 लाख 48 हजार रूपये की लागत के कस्तूरबा गांधी छात्रावास सह विघालय का भी भूमिपूजन कर समारोह को सम्बोधित करते हुए विघार्थियों व आमजन को बधाईयां दी।

स्कूल शिक्षा मंत्री ने विघार्थियों से कहा कि खूब पढ़ों और खूब खेलों लेकिन ध्यान रहे शिक्षा से हमारी उन्नति संभव है। उन्होंने यहां पौधा रोपण भी किया। प्रभारी मंत्री ने यहॉ खाली पड़े मैदान में पर्यावरण शुद्धता की दृष्टि से पौधा रोपण करने के निर्देश दिये। वन और उघानिकी विभाग को फलदार, छायादार व अधिक आक्सीजन और प्रोटीन देने वाले पौधे प्राथमिकता से रोपित करने की बात कही। जिससे बच्चों को शैक्षणिक परिसर में   सुरजन की फली, नीबू और अन्य सेंहतमंद फल मिल सकें। मुख्य अतिथि व्दारा यहां छात्राओं को विभिन्न विधाओं के लिए पुरूस्कृत कर उत्साह संवर्धन किया।

बिस्टान में बहु प्रतीक्षित विकास कार्यो का भूमिजून

स्कूल शिक्षा तथा जिले की प्रभारी मंत्री श्रीमती अर्चना चिटनीस ने इस भ्रमण के अनुक्रम में बिस्टान ग्राम में बहुप्रतीक्षित-घोषणाओं के विकास कार्यो का भी भूमि पूजन किया। प्रभारी मंत्री ने मुख्य अतिथि के रूप में यहॉ आवली और बिस्टान क्षेत्र में एक करोड़ 18 लाख 74 हजार रूपये की लागत से निर्मित होने वाले डेम का भूमि पूजन किया।  कन्या हाईस्कूल में 20 लाख 33 हजार से तीन कक्ष और एक हाल तथा बालक हाईस्कूल में 10 लाख 33 हजार रूपये की लागत से निर्मित होने वाले कक्ष की आधार शिला रखी। इसके अलावा यहां ग्राम के बस स्टेंड के 60 मीटर रोड निर्माण का भूमि पूजन किया। प्रभारी मंत्री ने कहा कि 50 लाख रूपये की लागत से यह कार्य संभव नही है। मुख्यमंत्री से एक करोड़ रूपये अवश्य ही दिलाये जायेगें। ताकि यह कार्य पूर्ण रूप से गुणवत्ता से हो सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here