सूचना प्रौद्योगिकी के जरिये समाधान का रास्ता खोजें

भोपाल, नवम्बर 2015/ जन-प्रतिनिधियों को सूचना प्रौद्योगिकी का प्रशिक्षण समस्याओं के समाधान में उपयोगी होगा। अधिक से अधिक जन-प्रतिनिधि इस हुनर में माहिर हो सकें तो जनता की तकलीफ कम होने की गति बढ़ जाएगी। यह बात राज्य सभा सदस्य श्री अनिल माधव दवे ने कही। श्री दवे ने कहा कि अब यह जरूरी हो गया है कि सूचना प्रौद्योगिकी से जन-प्रतिनिधि भी समस्याओं के समाधान के नए मार्ग को अपनाएँ।

श्री दवे प्रशासन अकादमी के सभाकक्ष में ‘जनप्रतिनिधियों के लिए सूचना प्रौद्योगिकी की आवश्यकता’ कार्यशाला को संबोधित कर रहे थे। व्याख्यानमाला पं. कुंजीलाल दुबे राष्ट्रीय संसदीय विद्यापीठ ने रखी थी। कार्यक्रम को राष्ट्रीय विधि विश्वविद्यालय मुम्बई के कुलपति प्रो. भवानी प्रसाद पण्डा ने भी संबोधित किया।

प्रारंभ में अपर सचिव विधान सभा श्री अवधेश प्रतापसिंह ने विचार व्यक्त किए। व्याख्यानमाला में शिक्षण संस्थाओं के प्राध्यापक, शोधकर्मी और विद्यार्थियों ने हिस्सा लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here